अमीराती स्वयंसेवक मानवता की शांति, प्रेम के संदेशवाहक हैं: हमदान बिन जायद

अबू धाबी, 4 दिसंबर, 2018 (डब्ल्यूएएम) -- अल धाफरा क्षेत्र में शासक के प्रतिनिधि और अमीरात रेड क्रिसेंट, ईआरसी के अध्यक्ष हिज हाइनेस शेख हमदान बिन जायद अल नहयान ने कहा है कि संयुक्त अरब अमीरात ने राष्ट्रपति महामहिम शेख खलीफा बिन जायद अल नहयान के नेतृत्व में अमीराती स्वयंसेवकों के प्रयासों की वजह से उन्नत स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने यह भी ध्यान दिलाया कि देश ने उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और दुबई के शासक हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम व अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और संयुक्त अरब अमीरात सशस्त्र बलों के उप सुप्रीम कमांडर हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जयद अल नहयान के नेतृत्व में स्वयंसेवी कार्य के लिए मजबूत नींव स्थापित की है। 5 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस को चिह्नित करने वाले एक बयान में शेख हमदान ने कहा, "अमीराती स्वयंसेवक मानवता के लिए प्यार और शांति के संदेशवाहक हैं।"

शेख हमदान ने यह मानते हुए कि स्वयंसेवीकरण एक धार्मिक और राष्ट्रीय कर्तव्य है और मानवता के प्रति नैतिक प्रतिबद्धता है, मनुष्यों के बीच अपने मूल्यों को बढ़ावा देने की कुंजी है, कहा कि स्वयंसेवी मानवतावादी कार्य भावना का हिस्सा है। उन्होंने विशेष रूप से सशस्त्र संघर्षों के क्षेत्रों में स्वयंसेवी कार्य और स्वयंसेवकों के सामने आने वाली चुनौतियों पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय कानूनों का गंभीर उल्लंघन मानवता के खिलाफ एक भयंकर अपराध है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि संयुक्त अरब अमीरात इस क्षेत्र में बढ़ती हिंसा के कारण कई अरब देशों में मानवीय स्थिति के बारे में चिंतित है। शेख हमदान ने आगे जोर दिया कि स्वयंसेवकों, नागरिकों और राहत श्रमिकों के हिंसा और सहायता के वितरण में बाधाओं की वजह से मानवीय स्थितियों में गिरावट आई है। अनुवादः एस कुमार

http://wam.ae/en/details/1395302725108

WAM/Hindi