• مسؤولون يشيدون بدعم الإمارات لـ
  • مسؤولون يشيدون بدعم الإمارات لـ
  • مسؤولون يشيدون بدعم الإمارات لـ
  • مسؤولون يشيدون بدعم الإمارات لـ
तस्वीर विडियो

आईसीएओ काे समर्थन देने पर यूएई की तारीफ अधिकारियों ने की 

अबू धाबी, 4 अप्रैल, 2019 (डब्ल्यूएएम) - अबू धाबी में आईसीएओ ब्लॉकचेन एविएशन समिट और प्रदर्शनी में भाग लेने वाले अधिकारियों ने वैश्विक विमानन क्षेत्र के उद्योगाें के भविष्य काे लेकर नई तकनीक के महत्व पर सहमति व्यक्त की है। अधिकारियाें का कहना है कि नई तकनीक सूचना और डेटा के सुरक्षित आदान-प्रदान के लिए एकीकृत मंच प्रदान करेगा, जिससे हवाई परिवहन उद्योग सुरक्षित और अधिक कुशल हो जाएगा। शिखर सम्मेलन के अंतिम दिन अमीरात समाचार एजेंसी डब्ल्यूएएम से बातचीत करते हुए अधिकारियों ने कहा कि प्रौद्योगिकी अपनाने के लिए संयुक्त अंतर्राष्ट्रीय काेशिश करने पड़ेंगे, जिससे वैश्विक नागरिक उड्डयन क्षेत्र को फायदा हाेगा। उनलाेगाें ने तकनीक अपनाने के बारे में अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) के प्रयासों काे देखते हुए यूएई के समर्थन की तारीफ की। यूएई जनरल सिविल एविएशन अथॉरिटी (जीसीएए) के महानिदेशक सैफ मोहम्मद अल सुवेदी ने डब्ल्यूएएम से कहा कि ब्लॉकचेन तकनीक अपनाने पर वैश्विक नागरिक विमानन क्षेत्र अपना भविष्य सुनिश्चित कर सकेगा। इसके लिए संयुक्त अंतर्राष्ट्रीय प्रयास की जरूरत है। जीसीएए के उप महानिदेशक उमर बिन गालिब ने कहा कि यूएई चुनौतियों का सामना करने में विमानन क्षेत्र के सरकारी अधिकारियों और अंतर्राष्ट्रीय भागीदारों के बीच सहयोग को बढ़ावा दे रहा है तथा नागरिक उड्डयन क्षेत्र के दिग्गजाें, संबंधित निकायाें व भागीदाराें काे परस्पर बातचीत के जरिये देशाें के साथ सहयाेग बढ़ाने, ब्लॉकचैन प्रौद्योगिकी में ज्ञान व विशेषज्ञता आदान-प्रदान करने के लिए मंच उपलब्ध कराकर अपनी प्रतिबद्धता साबित की है। सऊदी जनरल सिविल एविएशन अथॉरिटी में हवाई अड्डे के उपाध्यक्ष सुलेमान अहमद अल-बस्साम ने कहा कि हवाई परिवहन उद्योग के लिए यह महत्वपूर्ण वैश्विक शिखर सम्मेलन है। यह सम्मेलन नागरिक विमानन क्षेत्र के भविष्य का प्रतिनिधित्व करता है और भविष्य के तकनीकाें काे अपनाने में सक्षम बनाता है। इससे सुरक्षा व सूचना के संदर्भ में यात्रियों को लाभ पहुंचने के साथ ही विश्वास पैदा हाेगा। मध्य पूर्व के लिए आईसीएओ के क्षेत्रीय निदेशक मोहम्मद खलीफा रहमा ने कहा कि यूएई काे पहल शुरू करने का मकसद वैश्विक नागरिक उड्डयन क्षेत्र को विकसित करना है। उन्हाेंने कहा कि आईसीएओ की प्रासंगिक काेशिश काे यूएई का समर्थन विमानन क्षेत्र को आगे बढ़ाने में मदद करेगा, जिससे इस क्षेत्र के उद्योग वायु और विमानन सुरक्षा से संबंधित वर्तमान व भविष्य की चुनौतियों का सामना करने के लिए सक्षम हाेगा। अनुवादः वैद्यनाथ झा http://wam.ae/en/details/1395302753206

WAM/Hindi