नूर दुबई ने टॉलरेंस इन साइट अभियान की शुरूआत की

  • noor dubai launches 'tolerance in sight' campaign  1
  • noor dubai launches 'tolerance in sight' campaign  3
  • noor dubai launches 'tolerance in sight' campaign  2
  • noor dubai launches 'tolerance in sight' campaign  4

दुबई, 7 अप्रैल, 2019 (डब्ल्यूएएम) - हमारे बुद्धिमान नेतृत्व की ओर से 2019 को सहिष्णुता वर्ष के रूप में घोषित किए जाने के निर्देश के तहत नूर दुबई फाउंडेशन ने टॉलरेंस इन साइट नाम से चिकित्सा जागरूकता अभियान शुरू किया, जिसका उद्देश्य यूएई के चर्चों और मस्जिदों जैसे विभिन्न धार्मिक संस्थाओं में चिकित्सकीय जांच करना है। इस अभियान में नूर दुबई के यूएई आउटरीच कार्यक्रम, मोबाइल आई क्लीनिक द्वारा आंखाें की स्क्रीनिंग मुफ्त में की जाएगी। दुबई स्वास्थ्य प्राधिकरण के सहयोग से अभियान के तहत दंत चिकित्सा, सामान्य चिकित्सा और रक्तदान किया जाएगा। चिकित्सकीय जांच के अलावा इस अभियान का मकसद विभिन्न संस्कृतियों और विश्वासों के बीच संवाद व संचार का अवसर निर्मित कर सहिष्णुता भावना को जगाना है। नूर दुबई फाउंडेशन के सीईओ और बोर्ड सदस्य डॉ. मानल तारयम ने कहा कि राष्ट्रपति महामहिम शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान के निर्देश के अनुसार नूर दुबई फाउंडेशन के कार्यक्रम और पहल का उद्देश्य विभिन्न संस्कृतियों और सभ्यताओं के बीच असहिष्णुता और संवाद के बारे में हमारे नेतृत्व के दृष्टिकोण को सुनिश्चित करने के लिए जरूरतमंद लोगों का मदद करना है, जिससे उनका दृष्टिकोण पूरा हाे सके। 2008 में उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और दुबई के शासक महामहिम शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम द्वारा नूर दुबई की शुभारंभ के बाद से फाउंडेशन ने नस्ल, धर्म या संस्कृति की परवाह किए बिना इस क्षेत्र में आंखों की देखभाल करने के लिए सहायता दे रहा है। टॉलरेंस इन साइट अभियान ने दुबई के सेंट मैरी चर्च में अपनी पहली गतिविधि शुरू की तथा 400 व्यक्तियों को सेवा प्रदान की। इस अभियान का उद्देश्य पूरे यूएई के विभिन्न धार्मिक संस्थाओं में फाउंडेशन के स्थानीय आउटरीच कार्यक्रम और अन्य चिकित्सा सेवा के माध्यम 3000 से अधिक व्यक्तियों के आंखाें की स्क्रीनिंग करना है। डॉ. मनल ने कहा कि हम डीएचए यूथ काउंसिल से सहयाेग मिलने पर आभारी हैं। हमें उम्मीद है कि इस स्वयं सेवा के अवसर से आज के युवाओं में सहिष्णुता मूल्य गहरा हाेगा। डॉक्टरों, ऑप्टोमेट्रिस्ट और प्रशासकीय कर्मचारियों सहित डीएचए यूथ काउंसिल के 40 से अधिक स्वयंसेवकों ने अभियान में सहयाेग दिया। यह अभियान वर्ष 2019 के अंत तक जारी रहेगा तथा विविध अमीरात के चर्चों और मस्जिदों सहित देश के 14 धार्मिक स्थानाें में चलाया जाएगा। अनुवादः वैद्यनाथ झा http://wam.ae/en/details/1395302753710

WAM/Hindi