• سيف بن زايد يفتتح مؤتمر ومعرض تكنولوجيات الاقتصاد الرقمي
  • سيف بن زايد يفتتح مؤتمر ومعرض تكنولوجيات الاقتصاد الرقمي
  • سيف بن زايد يفتتح مؤتمر ومعرض تكنولوجيات الاقتصاد الرقمي
  • سيف بن زايد يفتتح مؤتمر ومعرض تكنولوجيات الاقتصاد الرقمي
  • سيف بن زايد يفتتح مؤتمر ومعرض تكنولوجيات الاقتصاد الرقمي
  • سيف بن زايد يفتتح مؤتمر ومعرض تكنولوجيات الاقتصاد الرقمي
तस्वीर विडियो

सैफ बिन जायेद ने समेकित मध्य-पूर्व 2019 का किया उद्धाटन 

अबू धाबी, 10 अप्रैल 2019 (डब्ल्यूएएम) - उप प्रधानमंत्री व इंटीरियर मंत्री महामहिम लेफ्टिनेंट जनरल शेख सैफ बिन जायेद अल नाहयान ने दुबई वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में समेकित मध्य-पूर्व का उद्घाटन किया। दो दिवसीय प्रदर्शनी का आयोजन अरब राज्यों के लीग और काउंसिल ऑफ अरब इकोनॉमिक यूनिटी ने टेरापिन मिडिल ईस्ट एफजेड एलएलसी के साथ साझेदारी में किया है। इस साल की प्रदर्शनी विगत साल दिसंबर में अरब राज्याें के लीग व अरब आर्थिक एकता परिषद् की ओर से अबू धाबी में डिजिटल अर्थव्यवस्था के लिए संयुक्त अरब स्ट्रैटेजिक विजन का शुभारंभ डिजिटल अर्थव्यवस्था के विभिऩ्न क्षेत्राें में साझेदारी सक्रिय करने तथा नवीनतम प्रौद्योगिकी अनुप्रयोगों और मॉडल की जांच काे लेकर उचित प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराने का अनुसरण करता है। अरब आर्थिक एकता परिषद् एक रणनीतिक साझेदार है और यूएई में समेकित एमई रखने का समर्थक है। परिषद् तकनीकी क्षेत्र में संयुक्त अरब राेजगार के अवसराें के लिए देश की अग्रणी भूमिका व समर्थन की पुष्टि करता है। महामहिम ने आयोजित प्रदर्शनी का दौरा किया और डिजिटल पहचान, डिजिटल भुगतान, ई-कॉमर्स, खुदरा और फिनटेक के क्षेत्र में प्रौद्योगिकी के नवीनतम विकास के बारे में जानकारी ली। प्रदर्शनी में 350 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शक व अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के 400 स्पीकर तथा 50 स्टार्टअप्स भाग ले रहे हैं। 250 से अधिक सत्रों का आयाेजन किया जाएगा। प्रदर्शनी में नवीनतम तकनीक पर प्रकाश डाला जा रहा है तथा इसमें 15,202 लाेग अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे। उपस्थित लाेगाें में 5,260 यूएई के बाहर से हैं। परिषद् के महासचिव मोहम्मद अल-रबेअ ने प्रेस वक्तव्य में कहा कि इस साल की प्रदर्शनी डिजिटल अर्थव्यवस्था के लिए संयुक्त अरब स्ट्रैटेजिक विजन के शुभारंभ का अनुसरण करता है। यह ध्यान रखना जरूरी है कि अबू धाबी में यूएई के साथ हुई पहला मील का पत्थर एमई अरब राष्ट्रों के लिए सामान्य दृष्टिकोण, आर्थिक विकास का समर्थन करने के लिए आवश्यक नीतियों के साथ ही कानूनी ताैर पर जरूरी पारिस्थितिकी तंत्र का समर्थन करने का अवसर प्रदान किया था। आज का एमई अरब सरकारों और अर्थव्यवस्थाओं के समर्थन काे लेकर विभिन्न डिजिटल अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में नवीनतम तकनीक की जांच करने का सबसे अच्छा मंच है। अल-रबेअ ने कहा कि परिषद् ने अरब स्ट्रैटेजिक विजन में शामिल होने का पहला मसौदा जारी किया, जिसमें 50 कार्यक्रमों और परियोजनाओं पर प्रकाश डाला गया है। मसाैदा के अनुसार निजी क्षेत्र अपने महान वित्तीय रिटर्न के कारण निष्पादन और प्रतिस्पर्धा के लिए समन्वित प्रयास शुरू करने के साथ ही अरब समुदायों पर पड़ने वाले सकारात्मक सामाजिक प्रभाव का समीक्षा कर सकते हैं। रणनीतिक विजन सही अवसर है। यह सिर्फ वर्तमान के लिए नहीं है। डिजिटल अर्थव्यवस्था के सकारात्मक प्रभाव, स्थायी विकास, सामाजिक व राजनीतिक स्थिरता काे बढ़ावा देने के प्रयासाें काे मजबूती देने के लिए यह सही अवसर है। अरब आर्थिक एकता परिषद के सलाहकार डॉ. अली अल-खौरी ने कहा कि सुरक्षा का पारंपरिक अर्थ सीमाओं, भूमि, संपत्ति के साथ-साथ सामाजिक और सांस्कृतिक संरचनाओं की रक्षा करने की क्षमता रखना है। हालांकि आज यह अवधारणा बड़े डेटा, परस्पर सामाजिक नेटवर्क की उपस्थिति, डिजिटल दुनिया, व्यक्तियों और समुदायों के जीवन की सुरक्षा के संबंध में बहुत अधिक तीव्र हो गई है। डॉ. अली ने कहा कि अरब दुनिया में हमारे पास कोई अन्य विकल्प नहीं है। अपने अरब समाज को आगे बढ़ाने और वैश्विक आर्थिक विकास में योगदान देने के लिए डिजिटल अर्थव्यवस्था बदलाव ला सकता है। डिजिटल आईडी समेकित एमई का नवीनतम जोड़ है, जिसमें एक बिलियन लोगों काे कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त आईडी नहीं होने पर प्रकाश डाला गया है। दुनिया की आधी आबादी के पास आईडी है लेकिन डिजिटल चैनलों पर इसका उपयोग नहीं कर सकते हैं। रिपोर्ट के अनुसार, ब्राजील, भारत, चीन, अमेरिका, ब्रिटेन, नाइजीरिया और इथियोपिया में अच्छी डिजिटल आईडी का संभावित आर्थिक मूल्य 2030 तक 3 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच सकता है। ई-कॉमर्स के बारे में रणनीतिक दृष्टिकोण दुबई एयरपोर्ट फ्री जोन द्वारा प्रस्तुत किया गया। अनुवादः वैद्यनाथ झा http://wam.ae/en/details/1395302754546

WAM/Hindi