यूएई ने अबू धाबी वर्ल्ड यूथ जिउ-जित्सु चैम्पियनशिप 2019 में 68 पदक जीते


अबू धाबी, 22 अप्रैल, 2019 (डब्ल्यूएएम) - अबू धाबी वर्ल्ड प्रोफेशनल जिउ-जित्सु चैम्पियनशिप 2019 (एडीडब्ल्यूपीजेजेसी) में यूएई के 10 से 17 आयु वर्ग के लड़कों ने अपने देश की महिला खिलाड़ियाें के नक्शेकदम पर चलते हुए पदकाें के आश्चर्यजनक दौड़ का पीछा किया। यह चैंपियनशिप स्थानीय और अंतरराष्ट्रीय युवाओं के लिए समर्पित प्रतियोगिता है, जिसका आयाेजन अबू धाबी के क्राउन प्रिंस व यूएई सशस्त्र बलों के उप सर्वोच्च कमांडर महामहिम शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान के संरक्षण में किया गया है। यूएई ने 54,320 अंक हासिल कर दो दिनाें में लड़कियों की प्रतियोगिता जीती, जिसमें 17 स्वर्ण, 29 रजत और 59 कांस्य पदक शामिल हैं। अबू धाबी के मुबाडाला एरिना में सप्ताह भर चलने वाले एडीडब्ल्यूपीजेजेसी 2019 के तीसरे दिन की प्रतियाेगिता में 54 देशों और 139 क्लबों के 10-17 वर्ष के सैकड़ों लड़के ग्रे, पीला, नारंगी व हरा रंग के बेल्ट लिए विभिन्न 77 श्रेणियों में 975 मैच खेलेंगे। अबू धाबी जिउ-जित्सु का वैश्विक घर है। प्रतिभागियाें काे बालक, जूनियर और किशोर वर्ग में विभाजित किया गया है। यूएई 45,384 अंकाें के साथ 68 पदक जीते। पदकाें में 15 स्वर्ण, 19 रजत और 34 कांस्य है। कजाकिस्तान 22,920 अंक हासिल कर 14 स्वर्ण, 14 रजत और 24 कांस्य पदक जीता। कजाकिस्तान का प्रतियाेगिता में दूसरा स्थान है।रूस 20,104 अंकाें के साथ तीसरे स्थान पर है। रूस काे 20 स्वर्ण, 11 रजत और 16 कांस्य पदक हासिल हुआ है। लड़कों ने अबू धाबी वर्ल्ड यूथ जिउ-जित्सु चैम्पियनशिप में 54 देशों के 959 एथलीटों और 139 क्लबों के बीच सोमवार को 886 मैच खेले। कजाकिस्तान ने 134 एथलीटों का नेतृत्व किया। रूस का 117 एथलीट हैं। कजाकिस्तान रूस से थाेड़ा आगे है। यूक्रेन के 51 एथलीट हैं। इस तरह यूक्रेन का एथलीट प्रतिनिधित्व मामले में तीसरा स्थान है। अल ऐन क्लब निदेशक मंडल के अध्यक्ष शेख अब्दुल्ला बिन मोहम्मद बिन खालिद अल नाहयान प्रतियोगिता के विजेता लड़काें को पुरस्कृत किया। शेख अब्दुल्ला अल नहयान ने कहा कि जीउ-जित्सू में यूएई काे उपलब्धियां अनायास नहीं मिली है। सफलता महामहिम शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान के निर्देश तथा यूएई के जीउ-जुत्सी फेडरेशन के लगातार काेशिश से मिला है। शेख माेहम्मद की दृष्टि और कड़ी मेहनत के परिणामस्वरूप अंतरराष्ट्रीय जिउ-जित्सू प्रतियाेगिता में सभी स्तरों पर प्रतिस्पर्धा करने वाले चैंपियन हमारे पास हैं। यूएई की पहचान मुख्य वैश्विक कार्यक्रमों की मेजबानी करने पर है तथा जिउ-जित्सु इसका एक बड़ा हिस्सा है। यूएईजेएफएफ के बोर्ड मेंबर मंसूर अल धाहरी ने कहा कि अपने देश तथा प्रतियाेगिता में उनके विराेधी एथलीटाें का समर्थन करने आए पूरे यूएई के प्रभावशाली एथलीटों काे यहां देखना अद्भुत है। मंसूर अल धाहरी ने कहा कि यहां बच्चों को प्रतिस्पर्धा करते देखकर काफी अच्छा लगता है। वे सभी खासकर उसी क्षेत्र में खुद को साबित करना चाहते हैं, जहां पेशेवर प्रतिस्पर्धा करते हैं। युवा यह साबित करना चाहते हैं कि वे क्या कर सकते हैं। न केवल खुद के लिए, बल्कि अपने साथियों, माता-पिता और स्कूलों के लिए। वे या तो टूट सकते हैं या खड़े हो सकते हैं। जिउ-जित्सु उन सभी के आत्मसम्मान के लिए अच्छा है। अबू धाबी वर्ल्ड यूथ चैम्पियनशिप के समापन पर अबू धाबी जिउ-जित्सु विश्व चैम्पियनशिप के दिग्गज मंगलवार को अबू धाबी के मुबाडाला एरिना लौटे। 30 वर्ष से अधिक आयु के काला, भूरा, बैंगनी और नीला बेल्ट धारी एथलीट कई भार वर्गों में 700 से अधिक मैचाें में प्रतिद्वंदी से मुकाबला करेंगे। यूएईजेजेएफ के विपणन व वित्त निदेशक मोहम्मद हुसैन अल मरज़ूकी ने कहा कि मास्टर्स श्रेणियों में दुनिया के सबसे अनुभवी जीउ-जित्सु पेशेवराें में से कुछ नाम विगत अबू धाबी वर्ल्ड प्रोफेशनल जिउ-जित्सु चैम्पियनशिप में शामिल थे। मास्टर्स पूरे सप्ताह सबसे बेहतरीन श्रेणियों में से एक है। अल मरजूकी एडीडब्ल्यूपीजेजेसी के निदेशक भी हैं। यूएईजेजेएफ ने आज एक बोर्ड बैठक आयोजित की। बैठक का नेतृत्व यूएई जिउ-जित्सु फेडरेशन के अध्यक्ष अब्दुलमुनाम अल हाशिमी ने किया। वे जिउ-जित्सु एशियाई संघ के अध्यक्ष और जिउ-जित्सु अंतरराष्ट्रीय फेडरेशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष भी हैं। बैठक में 2018/19 की उपलब्धियां, यूएई में जिउ-जित्सु की स्थिति, फेडरेशन के 2019/20 बजट की मंजूरी और फेडरेशन की पहल को सहिष्णुता वर्ष से जोड़ने के तरीके पर प्रकाश डाला गया। अनुवादः वैद्यनाथ झा http://wam.ae/en/details/1395302757439

WAM/Hindi