डीएमसीसी ने चीन के जेम्स एक्सचेंज से रणनीतिक गठजोड़ किया

दुबई, 14 मई, 2019 (डब्ल्यूएएम) - दुनिया में वस्तु व्यापार व उद्यम की अग्रणी मुक्त क्षेत्र (डीएमसीसी) ने आज चीन की आधिकारिक प्लेटफार्म जेमस्टाेन्स व जेड एक्सचेंज (सीजीजेई) के साथ रणनीतिक गठबंधन करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर की आज घाेषणा की। डीएमसीसी के मुख्य परिचालन अधिकारी फिरायल अहमदी और सीजीजेई के सह-संस्थापक व कार्यकारी उपाध्यक्ष युक चान ने शंघाई म्यूनिसिपल गवर्मेन्ट द्वारा यूएई की उच्चस्तरीय आधिकारिक व्यापारिक यात्रा के दाैरान समझाैते पर हस्ताक्षर किए। हस्ताक्षर समारोह में शंघाई के वाइस मेयर श्री जू कुनलिन और शंघाई शंघाई म्यूनिसिपल गवर्मेन्ट के कई वरिष्ठ प्रतिनिधि शामिल हुए। यूएई व चीन के बीच दाेनाें देशाें के जेमस्टाेन्स व जेड के खरीदाराें और विक्रेताओं काे जाेड़कर नए अवसर पैदा करने की साझेदारी तय की गई। इसके अतिरिक्त दोनों पक्ष अपने सदस्यों के लिए नैतिक और जिम्मेदार व्यावसायिक प्रथाओं को बढ़ावा देगा। डीएमसीसी के मुख्य परिचालन अधिकारी फिरायल अहमदी ने कहा कि हम इस बात से रोमांचित हैं कि चीन की जेम्स व जेड ने इस क्षेत्र में डीएमसीसी को अपने साझेदार के रूप में चुना है, जो विश्वसनीय कीमती पत्थर व्यापार प्लेटफार्म के रूप में हमारी स्थिति को दोहराता है। यह समझौता चीन के व्यापारिक समुदाय के साथ हमारे मौजूदा और मजबूत आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देने के लिए निर्धारित है। यह दुबई के माध्यम से नए व्यापार प्रवाह को आकर्षित करने, सुविधाजनक बनाने व संचालित करने के लिए डीएमसीसी की रणनीति का अभिन्न हिस्सा है। चीनी प्रतिनिधिमंडल को डीएमसीसी और दुबई डायमंड एक्सचेंज (डीडीई) के दौरे पर ले जाया गया, जहां अधिकारीगण जीवित हीरे की निविदा निरीक्षण करने में सक्षम थे। सीजीजेई पायलट मुक्त व्यापार क्षेत्र में चीन के शंघाई में पंजीकृत किया गया था। यह राष्ट्रीय स्तर का जेमस्टाेन्स-व्यापारिक प्लेटफार्म है, जिसे चीन की राज्य परिषद् ने अनुमोदित किया है। सीजीजेई एक महत्वपूर्ण रणनीतिक परियोजना है जो चीन सरकार द्वारा मुक्त व्यापार क्षेत्र में स्थापित किया गया है ताकि रत्न बाजार में सुधार लाया जा सके और चीनी रत्न के विकास काे तेजी से बढ़ावा दिया जा सके। सीजीजेई के चेयरमैन व संस्थापक फैजी वॉन्ग ने कहा कि चीन व यूएई के बीच लंबे समय से संबंध और भागीदारी है। यह समझाैता सुनिश्चित करेगा कि ये संबंध बढ़ते रहेंगे। हम मुक्त क्षेत्र की दुनिया में अग्रणी डीएमसीसी के साथ काम करने को लेकर उत्साहित हैं। हम मानते हैं कि सबसे तेजी से बढ़ते बाजारों के साथ जुड़ने और उन तक पहुंचने में मदद मिलेगी, जो रत्न उद्योग में अवसरों की मेजबानी कर सकता है। समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर में अमीरात की व्यापक आर्थिक दृष्टि काे डीएमसीसी का समर्थन तथा विशेष रूप से दुबई सिल्क रोड की फिफ्टी-ईयर चार्टर में उल्लिखित रणनीति का समर्थन करने पर जोर दिया गया, जिसकी घाेषणा यूएई के उपराष्ट्रपति और प्रधान मंत्री और दुबई के शासक ने की थी। यह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रणनीतिक गठजोड़ बनाने के लिए बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के प्रयास के तहत रणनीतिक स्थान के रूप में दुबई के महत्व को भी दर्शाता है। अनुवादः वैद्यनाथ झा http://wam.ae/en/details/1395302762642

WAM/Hindi