• 3c6ba7c6-7c89-4559-9b5e-5dce12ca4337.jfif
  • b38a2177-d653-4aed-9e82-f35029ff7d4e (1).jfif
  • 2903b294-2a52-4af0-9c08-d92a2dcbb38b.jfif
तस्वीर विडियो

खुला टकराव क्षेत्रीय हित में नहीं, यूएई इसकी सुरक्षा सुनिश्चित करेगा- अनवर गर्गश

दुबई, 16 मई, 2019, (डब्ल्यूएएम) - यूएई की समुद्री सीमा में चार वाणिज्यिक जहाजाें पर हाल में हुए हमले के बारे में यूएई के विदेश मामलाें के राज्य मंत्री ने कहा है कि खुला टकराव क्षेत्रीय हित में नहीं है। अमीरात समाचार एजेंसी (डब्ल्यूएएम) के साथ साक्षात्कार में डॉ. अनवर गर्गश ने कहा कि वर्तमान में इस इलाके में बहुत संवेदनशील अवधि चल रह है। खुला टकराव हमारे हित में नहीं है। उन्होंने कहा हमें ज्ञान, धैर्य व विवेक की कवायद करनी होगी। उन्हाेंने पुष्टि की कि क्षेत्रीय विकास कई संकट देख चुका है, लेकिन कोई पक्ष इस मौजूदा संघर्ष को भड़कते हुए देखने में रुचि नहीं रखता। यूएई के मंत्री ने कहा कि हम न केवल युद्ध से बचने के लिए बल्कि मौजूदा स्थिति से बचने के लिए सब कुछ करेंगे। फ़ुजैरा में वर्तमान में चल रही जांच पर टिप्पणी करते हुए डॉ. गर्गश ने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका और फ्रांस के साथ यूएई साझेदारी कर रहा है तथा कुछ दिनों के भीतर परिणाम सामने आने वाले हैं। यूएई के दृष्टिकोण से हमारे लिए महत्वपूर्ण बात यह है कि अपनी क्षेत्रीय सुरक्षा सुरक्षित रखने के लिए दोस्तों और सहयोगियों के परामर्श से जो चल रहा है उसका पालन करें। उन्हाेंने कहा कि तब तक हम अटकलें नहीं लगाने के लिए सावधान रहेंगे। क्षेत्रीय स्थिरता सुनिश्चित करने में ईरान की भूमिका पर टिप्पणी करने के लिए पूछे जाने पर डॉ. गर्गश ने कहा कि ईरान के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की चिंता दूर करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि ईरान के लिए क्षेत्रीय व्यवहार, कार्य और दीर्घकालिक परमाणु कार्यक्रम के बारे में चिंता दूर करने काे लेकर यह आवश्यक भी है। डॉ. गर्गश ने कहा कि जनसंपर्क अभियान पर जाना पर्याप्त नहीं है। उन्होंने कहा कि मौजूदा घटनाक्रम भंगुर स्थिति से दूर जहाज चलाने का आदेश देना दुर्जेय चुनौती का प्रतिनिधित्व करता है। डॉ. गर्गश ने जिक्र किया जिस दिन हम अपना बचाव करेंगे, हम अपने देश की सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने इसकी सुरक्षा और स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए यूएई की क्षमता की पुष्टि की। उन्हाेंने दोहराया कि खुले संघर्ष के परिदृश्य से बचा जाना चाहिए, क्योंकि कूटनीति व सामान्य ज्ञान को काम करना चाहिए। अनुवादः वैद्यनाथ झा http://wam.ae/en/details/1395302762943

WAM/Hindi