क्षेत्रीय साइबर हमले तेजी से बढ़ रहे हैं: एक्सपर्ट

विडियो तस्वीर

अबू धाबी, 11 सितंबर, 2019 (डब्ल्यूएएम) -- एक साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ ने कहा है कि मध्य पूर्व में महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचों पर साइबर हमले तेजी से बढ़ रहे हैं। डार्कमैटर के सीनियर वाइस प्रेसिडेन्ट एरिक आइफर्ट ने कहा है कि यह क्षेत्र तेल और गैस से इतर इनोवेशन और नई तकनीकों के मामले में बहुत तेजी से बढ़ रहा है। "हम नवीकरणीय ऊर्जा को सौर और पवन में निवेश बढ़ता देख रहा है। परिणामस्वरूप विश्वस्तर पर बौद्धिक संपदा को निशाना बनाने के लिए आर्थिक रूप से जासूसी के लिए इसका इस्तेमाल हो रहा है। अमीरात समाचार एजेंसी (डब्लूएएम) से बातचीत करते हुए डार्कमैटर के प्रतिनिधि ने कहा "यह क्षेत्र बहुत दिलचस्प है। यहां साइबर एक्टर्स सक्रिय हैं, जिनकी अच्छी-खासी क्षमताएं हैं।"

साइबर सिक्योरिटी कंपनी द्वारा हाल ही में जारी की गई एक रिपोर्ट में जासूसी पर प्रकाश डाला गया है। इसके लिए मुख्य तौर पर दो तकनीकों का उपयोग किया जा रहा है। ये हमले महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे को प्रभावित कर सकते हैं। आइफर्ट ने कहा कि इस तरह के हमलों का बुनियादी ढांचे की क्षमताओं पर भी असर पड़ता है, जिसके परिणामस्वरूप उत्पादन और वितरण में कमी आई है। इनमें से कोई भी हमला किसी भी महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे की गतिविधियों पर उद्योग को बाधित कर सकता है और अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा सकता है। डार्कमैटर साइबर सिक्योरिटी ने जून में रिपोर्ट जारी किया, जिसमें कहा गया है कि मध्य पूर्व के सभी साइबर हमले तेल और गैस क्षेत्र को टारगेट करते हैं। आइफर्ट ने कहा, इस तरह की कार्रवाइयों से इस क्षेत्र पर "विनाशकारी" प्रभाव हो सकता है। इस तरह के हमलों के आर्थिक प्रभाव पर टिप्पणी करते हुए आइफर्ट ने कहा, "यदि खरबों नहीं हैं तो भी हम अरबों में बात कर रहे हैं।"

उन्होंने बताया कि यदि एक गैस टरबाइन पर साइबर हमला होता है तो इससे उबरने में इसे चार से पांच साल लगेंगे। उन्होंने कहा इसका न केवल प्रत्यक्ष मौद्रिक प्रभाव है, बल्कि इससे एक प्रतिष्ठित नुकसान भी होता है, जहां संस्थानों में ग्राहकों का विश्वास भी कम होता है। आइफर्ट ने जोर देकर कहा, "मेरी सबसे बड़ी चिंता ऐसी चीज है जो मानवता को प्रभावित करती है, मानव आबादी के स्वास्थ्य और कल्याण को प्रभावित करती है।" साइबर हमले से "हमारे जीवन के तरीके पर काफी प्रभाव पड़ सकता है।"

डार्कमैटर के प्रतिनिधि ने कहा कि साइबर सुरक्षा उद्योग अब सही प्रौद्योगिकियां बना रहा है जो साइबर हमले से होने वाले खतरों को समझा जा सकता है। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302785708

WAM/Hindi