भारतीय निवेशकों ने डीपी वर्ल्ड, जाफजा में रुचि दिखाई


दुबई, 29 सितंबर, 2019 (डब्ल्यूएएम) -- नई दिल्ली में आयोजित 16वें सीआईआई ग्लोबल एसएमई बिजनेस समिट में डीपी वर्ल्ड (यूएई) और जेबेल अली फ्री जोन (जाफजा) के महत्वपूर्ण सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों में भारतीय निवेशकों ने खासी रुचि दिखाई। हाल ही में समाप्त हुआ शिखर सम्मेलन भारत-यूएई ब्रिज का हिस्सा था, जिसका उद्देश्य डीपी वर्ल्ड यूएई क्षेत्र और भारत के व्यापार क्षेत्रों के बीच तालमेल का निर्माण करना था। डीपी वर्ल्ड के प्रबंध निदेशक तथा जाफजा के सीईओ मोहम्मद अल मुअल्लेम ने कहा, "यूएई की अपनी हालिया यात्रा के दौरान, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूएई को 'पारस्परिक रूप से लाभकारी साझेदारी के माध्यम से यूएस $ 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था तक पहुंचने के उद्देश्य को साकार करने में एक मूल्यवान भागीदार" के रूप में वर्णित किया है। हम दृढ़ता से मानते हैं कि भारत-यूएई ब्रिज इस उद्देश्य को हासिल करने की दिशा में एक बड़ी पहल है।"

जाफजा को 3.5 बिलियन उपभोक्ताओं के क्षेत्र में व्यावसायिक अवसरों का पता लगाने, पहचानने और उनका लाभ उठाने में सक्षम बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। निवेशक और उद्यमी डीपी वर्ल्ड की प्रमुख सुविधाओं, अत्याधुनिक बुनियादी ढाँचे, नेटवर्किंग और जेबेल अली पोर्ट से 360 डिग्री लॉजिस्टिक्स सहायता का लाभ उठा सकते हैं। ग्लोबल एसएमई बिजनेस समिट में प्रतिभागियों ने उत्पादों और सेवाओं की निर्यात क्षमता का आकलन करने, उपयुक्त बाजारों की पहचान करने और व्यापार संघों के माध्यम से नए क्षेत्रों में प्रवेश करने के लिए रणनीति विकसित करने पर ज्ञान का आदान-प्रदान किया। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302790662

WAM/Hindi