यूएई को लगातार पांचवी बार आईसीएओ की सदस्यता


मॉन्ट्रियल, 1 अक्टूबर, 2019 (डब्ल्यूएएम) -- संयुक्त अरब अमीरात को इंटरनेशनल सिविल एविएशन ऑर्गनाइजेशन (आईसीएओ) परिषद में लगातार पांचवीं बार चुना गया है। सितंबर 24 से 4 अक्टूबर तक मॉन्ट्रियल, कनाडा में चल रहे आईसीएओ के 40वें सत्र की बैठक में यूएई को 152 वोट मिले हैं। मंगलवार को पुन: चुनाव अभियान को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद यूएई अंतर्राष्ट्रीय संगठन में अपना पांचवां कार्यकाल पूरा करेगा। यह घोषणा आज ती बैठक के दौरान की गई, जिसमें अर्थव्यवस्था मंत्री और जनरल सिविल एविएशन अथॉरिटी (जीसीएए) बोर्ड के अध्यक्ष सुल्तान बिन सईद अल मंसूरी, कनाडा में यूएई के राजदूत फहद अल रकबानी और जीसीएए के महानिदेशक सैफ मोहम्मद अल सुवेदी साथ ही यूएई के नागरिक उड्डयन के शीर्ष अधिकारियों के साथ उपस्थित थे। आईसीएओ यूनाइटेड नेशन की विमानन एजेंसी है। परिषद आईसीएओ का शासी निकाय है। अल मंसूरी ने कहा, "यह यूएई और इसके उन्नत नागरिक उड्डयन क्षेत्र के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। यह एक और मील का पत्थर है जो विमानन उद्योग में एक लीडर के रूप में यूएई की स्थिति को मजबूत करता है।"

उन्होंने कहा कि यूएई अपने वैश्विक आर्थिक प्रभाव के कारण विमानन उद्योग को और मजबूत बनाने के लिए महत्वपूर्ण बदलावों को लागू करने के लिए आईसीएओ और उसके सदस्य राज्यों के साथ काम करना जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध है। मंत्री ने कहा, "यह नवीनीकृत सदस्यता इस आवश्यक क्षेत्र में यूएई के हितों को संरक्षित करने और निर्णय लेने की प्रक्रिया में कुशलतापूर्वक योगदान देकर अपनी वृद्धि को सुनिश्चित करेगी।"

यूएई को इससे पहले 2007, 2010, 2013 और 2016 में चुना गया था। वहीं, सैफ अल सुवेदी ने कहा कि यह चुनाव विभिन्न मोर्चों पर आईसीएओ के सहयोग में पिछले कुछ वर्षों में किए गए अथक प्रयासों की गवाही है। यूएई अपनी क्षमताओं का निर्माण करके विमानन उद्योग के भविष्य में राष्ट्रीय मानव संसाधनों के महत्व को पहचानता है ताकि भविष्य की चुनौतियों का सामना किया जा सके। इस संदर्भ में राष्ट्रीय प्रतिभाओं के भविष्य के नेताओं के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम को राष्ट्रीय प्रतिभा तैयार करने और उन्हें इस क्षेत्र में भविष्य के लीडर होने के लिए लॉन्च किया गया है। यह कार्यक्रम कैबिनेट और भविष्य मामलों के मंत्रालय में प्रधानमंत्री के कार्यालय में यूएई सरकार के नेताओं के सहयोग से विकसित किया गया है। इसका उद्येश्य 18 से 35 वर्ष की आयु के बीच यूएई के नागरिकों की क्षमताओं और दक्षताओं को विकसित करना है। एक्सपो 2020 दुबई के प्रतिनिधियों ने भी छह महीने के अंतर्राष्ट्रीय एक्सपो के तीन उपप्रकारों को बढ़ावा देने के लिए 40वीं आईसीएओ बैठक में शामिल होने का अवसर प्राप्त किया। एक्सपो 2020 दुबई का आयोजन "कनेक्टिंग माइंड्स, क्रिएटिंग द फ्यूचर" के तहत किया जाने वाला है। इंटरनेशनल एविएशन कंसल्टिंग एंड ट्रेनिंग (आईएसीटी) जनरल सिविल एविएशन अथॉरिटी की सहायक कंपनी, विमानन सुरक्षा, सुरक्षा, हवाई परिवहन समझौते, कॉर्पोरेट विकास, रणनीतिक योजना और संगठनात्मक विकास पर परामर्श और प्रशिक्षण पाठ्यक्रम प्रदान करती है। तीन साल पुराना यह प्रशिक्षण केन्द्र अंतरराष्ट्रीय संस्थानों के साथ प्रतिस्पर्धा करने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रदान करने के लिए उच्च योग्य और अनुभवी संकाय का दावा करता है। अब तक यूएई जीसीएए की वाणिज्यिक सेवा शाखा ने यूएई और विदेशों से 1000 से अधिक विमानन पेशेवरों के लिए 80 प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए हैं। पर्यावरण संरक्षण और सतत विकास यूएई के नीति एजेंडे के मुख्य तत्व हैं। देश वैश्विक जलवायु प्रणाली के स्थिरीकरण के लिए सक्रिय रूप से प्रतिबद्ध है, जैसा कि कई पहल और बेहतर प्रौद्योगिकी और बुनियादी ढांचे में पर्याप्त निवेश से पता चल रहा है। यूएई की पहली पर्यावरण नीति 2012 में शुरू की गई थी। यूएई में नागरिक उड्डयन क्षेत्र के लिए राज्य स्तर पर पहली पर्यावरण नीतियां हैं, और यह नागरिक उड्डयन के उत्सर्जन और जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने के लिए आईसीएओ की भूमिका की पुष्टि करता है। नीति का उद्देश्य घरेलू विमानन क्षेत्र में सभी रणनीतिक भागीदारों के साथ लागत प्रभावी और सकारात्मक आर्थिक प्रभाव के आधार पर सर्वोत्तम प्रथाओं के अनुप्रयोग द्वारा पर्यावरण नीतियों और योजनाओं को तैयार करना और अपनाना है। यूएई का आईसीएओ काउंसिल में पुन: चुनाव अथक प्रयासों का परिणाम है। यूएई और आईसीएओ के बीच संबंध 1972 से है जब यूएई आधिकारिक तौर पर आईसीएओ में शामिल हुआ था। तब से यूएई आईसीएओ की समितियों, योजनाओं और पहलों में सक्रिय रूप से भाग ले रहा है और 2007 में आयोजित पिछले सत्र में पहली बार आईसीएओ परिषद के लिए चुना गया था। जीसीएए का कहना है कि यूएई के पास आईसीएओ परिषद की सीट के लिए कई कारक हैं। यह नागरिक उड्डयन क्षेत्र के आकार के मामले में क्षेत्रीय रूप से पहले स्थान पर है जो यूएई के आठ आधुनिक हवाई अड्डों के माध्यम से एक उन्नत बुनियादी ढांचे के साथ दुनिया भर में चार राष्ट्रीय वायु वाहकों के अलावा, वर्तमान में लगभग 497 विमान हैं। यूएई आईसीएओ के सदस्य देशों और लैटिन अमेरिकी और दक्षिण अफ्रीकी राज्यों के समूह को तकनीकी और प्रशिक्षण सहायता प्रदान करता है, साथ ही खाड़ी स्तर पर इसके समन्वय और सहकारी प्रयास भी करता है। यूएई आईसीएओ गतिविधियों में अपनी सक्रिय भागीदारी और संगठन के कार्यक्रमों में पर्याप्त योगदान के माध्यम से इसके द्वारा सीखे गए सबक और इसे प्राप्त की गई विशेषज्ञता को साझा करना चाहता है। अनुवादः एस कुमार.

http://www.wam.ae/en/details/1395302791434

WAM/Hindi