नूर एनर्जी 1 को अक्षय ऊर्जा परियोजना वित्तपोषण के लिए सीबीआई प्रमाणपत्र


रियाध, 2 अक्टूबर, 2019 (डब्ल्यूएएम) -- मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम सोलर पार्क नूर एनर्जी 1 का चौथा चरण दुबई एनर्जी स्ट्रैटेजी 2050 को पूरा करने की दिशा में प्रयासों के तहत जीसीसी क्षेत्र में "क्लाइमेट बॉन्ड्स इनिशिएटिव", अक्षय ऊर्जा परियोजना के वित्तपोषण के लिए प्रमाणपत्र हासिल करने वाला पहली परियोजना बन गया है। फ्लैगशिप प्रोजेक्ट दुबई इलेक्ट्रिसिटी एंड वॉटर अथॉरिटी व एक प्रमुख सऊदी डेवलपर व बिजली उत्पादक के बीच सहयोग है। नूर एनर्जी 1 दुनिया में सबसे बड़ी एकल-साइट केंद्रित सौर ऊर्जा परियोजना है। सीबीआई एक प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय गैर-लाभकारी संगठन है जो केवल 100 ट्रिलियन डॉलर बॉन्ड मार्केट और "ग्रीन लोन" जारी करने के माध्यम से जलवायु परिवर्तन समाधानों को जुटाने और सुविधाजनक बनाने की दिशा में काम कर रहा है। एसीडब्ल्यूएए पावर के चेयरमैन मोहम्मद अबुयान की मौजूदगी में डीईडब्ल्यूए के एमडी और सीईओ सईद मोहम्मद अल टायर को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। सईद मोहम्मद अल टायर ने कहा, "सीबीआई प्रमाणन नूर ऊर्जा 1 से अधिक वर्षों की कड़ी मेहनत और अविश्वसनीय प्रगति को दर्शाता है। यह उच्चतम अंतरराष्ट्रीय मानकों को लागू करने और दुबई में बदलने के लिए नवीनतम सौर ऊर्जा प्रौद्योगिकियों का उपयोग करने में हमारी निरंतर खोज को बढ़ावा देता है।"

एसीडब्ल्यूएए पावर और डीईडब्ल्यूए की सफलता पर टिप्पणी करते हुए, एसीडब्ल्यूएए पावर के अध्यक्ष, मोहम्मद अबुनायन ने कहा, "सीबीआई मान्यता ग्रीन वित्तपोषण परिदृश्य को बदलने और जलवायु परियोजनाओं के लिए पूंजी की लागत को कम करने में नूर एनर्जी 1 और एसीडब्ल्यूए पावर की क्षमता को पुष्ट करती है।"

नूर एनर्जी 1 कई विश्व रिकॉर्ड तोड़ने में भी सफल रहा और यह चरण 320,000 निवासों को स्वच्छ ऊर्जा प्रदान करेगा और सालाना 1.6 मिलियन टन कार्बन उत्सर्जन को कम करेगा। अनुवादः एस कुमार.

http://www.wam.ae/en/details/1395302791668

WAM/Hindi