यूएई में 100,000 रूसी बोलने वाले लोग व सहिष्णुता ने रूस व यूएई को करीब लायाः रूसी राजनयिक


बिन्सल अब्दुलकादेर अबू धाबी, 10 अक्टूबर, 2019 (डब्ल्यूएएम) -- एक रूसी राजनयिक का कहना है कि संयुक्त अरब अमीरात में एक बड़े रूसी-भाषी समुदाय और सहिष्णुता के मूल्य ने रूस और यूएई को और अधिक करीब ला दिया है। राजदूत ने जोर देकर कहा है कि "संयुक्त अरब अमीरात मध्यपूर्व में रूस का सबसे महत्वपूर्ण भागीदार है।"

अबू धाबी में रूसी दूतावास में मिशन के उप प्रमुख। यूरी विदकस ने कहा, "यूएई लगभग 100,000 लोगों के एक रूसी-भाषी समुदाय की मेजबानी कर रहा है, जिनमें से लगभग 40,000 रूसी नागरिक हैं और 60,000 पूर्व सोवियत राज्यों के नागरिक हैं। ये लोग दोनों महान देशों के बीच लोगों के बीच संबंधों को बढ़ावा देते हैं।"

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अगले सप्ताह यूएई की राजकीय यात्रा पर पर आने वाले हैं। इसी अवसर पर रूसी राजनयिक ने अबू धाबी में रूसी दूतावास में चयनित पत्रकारों के एक समूह से बात की। विदकस ने कहा, "यूएई में करीब 200 अलग-अलग देशों के लोग रहते हैं, इसी तरह रूस लगभग 180 देशों के नागरिकों की मेजबानी कर रहा है। दोनों देशों में इन कई राष्ट्रीयताओं के लोगों का सामंजस्यपूर्ण जीवन बहुसांस्कृतिक संगठनों में [अभ्यास] सहिष्णुता का एक आदर्श उदाहरण है।"

उन्होंने दोनों देशों को धार्मिक सद्भाव और सहिष्णुता के प्रमाण के रूप में बताते हुए कहा, "खाड़ी क्षेत्र में एकमात्र रूसी चर्च शारजाह में है। रूस में कई मस्जिदें हैं। रूस के चेचन्या में अधिकारियों ने हाल ही में यूरोप की सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक का उद्घाटन किया।"

दोनों देशों के बीच बढ़ते पर्यटक आवाजाही से लोगों के बीच लोगों के संबंधों में भी वृद्धि होती है। उन्होंने कहा कि 2018 में लगभग 900,000 रूसी पर्यटकों ने संयुक्त अरब अमीरात का दौरा किया। रूस और यूएई के बीच एक सप्ताह में लगभग 111 उड़ानें हैं। राजनयिक ने बताया, "कई उड़ानें रूस के विभिन्न क्षेत्रों से पर्यटकों को लाती हैं, विशेष रूप से दुबई के अलावा शारजाह, रास अल खैमाह और फुजैरा में। यह प्रवृत्ति विभिन्न रूसी क्षेत्रों और संयुक्त अरब अमीरात के अमीरात के बीच बढ़ते संबंधों का एक उदाहरण है।"

संघीय सरकारों के बीच संबंध बढ़े हैं। उन्होंने कहा, शारजाह को सितंबर में आयोजित 32वें मॉस्को इंटरनेशनल बुक फेयर में आयोजकों द्वारा गेस्ट सिटी का दर्जा दिया गया था। इसी तरह, विभिन्न रूसी क्षेत्रों में संयुक्त अरब अमीरात की नियमित उपस्थिति है। शैक्षिक क्षेत्र में, कम से कम पांच रूसी विश्वविद्यालय यूएई में अपनी शाखाएं खोलने की योजना बना रहे हैं। उन्होंने कहा, "स्थानीय नियमों के अनुसार उन्हें प्रमाणन [और संबंधित मामलों] जैसी कई औपचारिकताओं को पूरा करने में समय लग सकता है। हमारे पास विश्व स्तर के विश्वविद्यालय और शैक्षणिक संस्थान हैं, खासकर चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में।"

राजनीतिक मोर्चे पर, हाल के वर्षों में उच्च-स्तरीय यात्राएं दोनों देशों को एक-दूसरे से जुड़े महत्व को रेखांकित करती हैं। उन्होंने उल्लेख किया कि अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और यूएई सशस्त्र बलों के उप सर्वोच्च कमांडर हिज हइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने पिछले पांच वर्षों में रूस का छह बार दौरा किया। राजनयिक ने कहा कि जून 2018 में दोनों पक्षों द्वारा हस्ताक्षरित 'रणनीतिक साझेदारी की घोषणा' एक महत्वपूर्ण कदम है जो संबंधों में भविष्य के विकास के लिए एक बुनियादी ढांचे के रूप में काम करेगा। उन्होंने कहा कि जब दिसंबर 1971 में इसकी स्थापना की गई थी, तब रूस यूएई को मान्यता देने वाले कुछ देशों में से एक था। द्विपक्षीय व्यापार के बारे में बात करते हुए, जो यूएई के अर्थव्यवस्था मंत्रालय के आंकड़ों के आधार पर, 2018 में 3.4 बिलियन अमेरिकी डॉलर था, उन्होंने टिप्पणी की, "इसमें निश्चित रूप से आने वाले वर्षों में सुधार होगा।"

उन्होंने कहा कि नवाचार दोनों देशों के लिए प्राथमिकता है। अंतरिक्ष में प्रथम अंतरिक्ष यात्री भेजने पर यूएई के समारोहों में रूस भी शामिल हो रहा है। उन्होंने अंत में कहा, "हम जानते हैं कि वह [हज्जा अल मंसूरी] क्यों एक राष्ट्रीय नायक है। हम अपने देश में भी अंतरिक्ष यात्रियों को नायक मानते हैं।"

अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302793790

WAM/Hindi