यूएई के खाद्य आयात की मांग को पूरा करने के लिए उत्सुक है रूसः विशेषज्ञ


रसा अबू बकर अबू धाबी, 10 अक्टूबर, (डब्ल्यूएएम) -- अमीराती व रूसी व्यापार अधिकारियों का कहना है कि यूएई के अत्यधिक ग्रहणशील और तेजी से बढ़ते बाजार का लाभ उठाने के लिए रूस अब यूएई को अपने कृषि निर्यात को बढ़ाने की कोशिश कर रहा है। पिछले कुछ वर्षों में रूस ने यूएई में अपनी व्यावसायिक उपस्थिति बढ़ाने के लिए कई अन्य कदम उठाए हैं। इनमें 2017 में अबू धाबी के रूसी दूतावास में एक व्यापार प्रतिनिधि कार्यालय खोलना व दुबई में 2019 में रूसी बैंक हाउस का उद्घाटन प्रमुख रहा है। दुबई चैंबर में अंतर्राष्ट्रीय कार्यालयों के निदेशक उमर खान ने डब्ल्यूएएम से बातचीत करते हुए कि बताया कि यूएई रूसी खाद्य निर्यात से कैसे लाभान्वित हो सकता है। उन्होंने कहा, "रूस एशिया में तेजी से बढ़ता हुआ कृषि क्षेत्र है। रूस सक्रिय रूप से मध्य पूर्व में अपने खाद्य निर्यात को बढ़ावा देने के प्रयास कर रहा है।"

उन्होंने कहा, "यूएई इस प्रवृत्ति का लाभ लेगा, क्योंकि यह क्षेत्र में रूसी उत्पादों और वस्तुओं के लिए पसंदीदा पुन: निर्यात केंद्र बना हुआ है, जिससे निर्यातकों को आसपास के बाजारों में लगभग दो अरब उपभोक्ताओं तक पहुंच मिलती है।"

रूसी व्यापार परिषद के अनुसार, रूसी कंपनियां पूरे साल दुबई में होने वाली प्रमुख प्रदर्शनियों में रुचि दिखा रही हैं। आरबीसी ने डब्ल्यूएएम को बताया, "रियल एस्टेट, लॉजिस्टिक्स, एविएशन और एनर्जी के अलावा, रूसियों ने संयुक्त अरब अमीरात में अपने काम में विविधता लाई है। रूस यूएई में कृषि और औद्योगिक निर्यात भी बढ़ाना चाह रहा है।"

बयान में कहा गया है, "यूएई हजारों रूसी लोगों का घर बन गया है और यह क्षेत्रीय बाजारों में प्रवेश करने की चाह रखने वाली रूसी कंपनियों के लिए एक आकर्षक गंतव्य बना हुआ है।"

इसके अलावा, खान ने बताया, विभिन्न आर्थिक क्षेत्रों में यूएई की "जबरदस्त व्यावसायिक क्षमता" है। यही वजह है कि दुबई चैम्बर रूसी और यूरेशियन बाजारों में व्यापारिक संभावनाओं को बढ़ाने के लिए क्षेत्र में एक कार्यालय खोलने के साथ इन संबंधों को बढ़ाने पर काम कर रहा है। उन्होंने कहा, "बाकू में दुबई चैंबर का अंतर्राष्ट्रीय कार्यालय, अजरबैजान, रूस और अन्य यूरेशियाई बाजारों में व्यापार के अवसरों की पहचान करने और रूसी कंपनियों के लिए पसंदीदा व्यापारिक केंद्र के रूप में दुबई को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।"

"जब हमने सात साल पहले बाकू में अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय कार्यालय खोला था, तब से लेकर अब तक दुबई चैंबर के साथ पंजीकृत रूसी कंपनियों की संख्या आज लगभग 550 तक पहुंचने के साथ ही तीन गुना हो गई है।"

खान ने कहा कि तेजी से बढ़ती और महानगरीय आबादी का एक घर होने के नाते, जो विभिन्न प्रकार के खाद्य उत्पादों की मांग को बढ़ा रहा है, यूएई रूसी खाद्य निर्यात के लिए एक अनुकूल बाजार बन गया है। "यह देखते हुए कि यूएई अपनी खाद्य आवश्यकताओं के 85 प्रतिशत से अधिक आयात करता है, सरकार अपने खाद्य आयात बाजारों में विविधता लाने और खाद्य सुरक्षा पर अन्य देशों के साथ सहयोग करने के लिए बहुत उत्सुक है।"

उन्होंने कहा, "संयुक्त अरब अमीरात में विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचे, उत्कृष्ट रसद सुविधा और आकर्षक मुक्त क्षेत्र हैं, जिससे व्यापार प्रक्रिया सुगम होती है।"

उन्होंने कहा कि दुबई दुनिया भर के खाद्य उत्पादों का एक प्रमुख केंद्र है, जिनका अमीरात, जीसीसी और अफ्रीका के आसपास के बाजारों में फिर से निर्यात किया जाता है। उन्होंने कहा, "2018 में रूस से दुबई में एईडी 900 मिलियन के कृषि उत्पाद व खाद्य पदार्थ निर्यात किए गए थे, जबकि एईडी104 मिलियन से अधिक रूसी खाद्य-संबंधित उत्पादों को अमीरात के माध्यम से फिर से निर्यात किया गया था। इस दायरे को व्यापक बनाने संभावना है।"

खान मानते हैं कि यूएई प्रतिस्पर्धात्मक लाभ और ताकत प्रदान करता है, जो इसे रूसी कंपनियों के लिए एक पसंदीदा बाजार बनाता है। खान ने कहा कि 40 से अधिक मुक्त क्षेत्र में मूल्य वर्धित सेवाएं, 100 प्रतिशत विदेशी स्वामित्व, एक निवेशक-अनुकूल वातावरण के अलावा प्रति वर्ष दुनिया की सबसे बड़ी प्रदर्शनी व सम्मेलन यूएई को एक आकर्षक गंतव्य बनाता है। उन्होंने कहा, "एक अन्य कारक, जो यूएई को एक आकर्षक गंतव्य बनाता है, वह है इसका बढ़ता पर्यटन बाजार जो निकट भविष्य में और विस्तार करने के लिए तैयार है। हाल ही में देश की योजना एक्सपो 2020 के जरिए 20 मिलियन पर्यटकों के स्वागत की है।"

अपनी नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट में, यूएई अर्थव्यवस्था मंत्रालय ने 2018 में यूएई और रूस के बीच कुल 3.4 बिलियन अमेरिकी डॉलर का व्यापार दर्ज किया। मंत्रालय के आंकड़ों में हीरे के बाद सबसे ज्यादा आयात गेहूं के उत्पादों कता किया गया। रूस और यूएई दोनों में उद्यमियों के लिए एक परामर्श कंपनी INCONA के प्रबंधन निदेशक और रूसी फूड हाउस के संचालक अलेक्सी ब्यूसेव ने कहा कि रूसी निर्माताओं के पास यूएई बाजार की खाद्य मांगों को पूरा करने के लिए आवश्यक क्षमताएं हैं। ब्यूसेव मास्को के चैंबर ऑफ कॉमर्स में रूस-अमीराती आयोग के अध्यक्ष भी हैं। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302793802

WAM/Hindi