इलेक्ट्रिक कारों को बढ़ावा देने के बिना '45 -मिनट सिटी-स्टेट बनेगा' सिंगापुरः पर्यावरण मंत्री


अबू धाबी, 11 फरवरी, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- सिंगापुर के एक शीर्ष अधिकारी के अनुसार, सिंगापुर सार्वजनिक परिवहन की लागत पर इलेक्ट्रिक कारों को बढ़ावा नहीं देगा, जो सड़क यातायात की भीड़ को बेहतर तरीके से संबोधित करता है। अमीरात समाचार एजेंसी (डब्ल्यूएएम) से बातचीत करते हुए सिंगापुर के पर्यावरण और जल संसाधन मंत्री मसागोस जुल्कीफ्ली ने बताया, "सिंगापुर में समग्र रूप से सार्वजनिक परिवहन का उद्देश्य केवल प्रदूषण और कार्बन उत्सर्जन को कम करना नहीं है, बल्कि सड़क की भीड़ को कम करना भी है।"

उन्होंने हाल ही में अबू धाबी की अपनी यात्रा के दौरान एक विशेष साक्षात्कार में कहा, "हम हमेशा आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं की आवाजाही के लिए अपनी सड़कों को मुक्त रखना चाहते हैं।"

उन्होंने कहा, "हमारा दृष्टिकोण इलेक्ट्रिक कारों पर ध्यान केंद्रित नहीं करता है, हालांकि वे कम प्रदूषण पैदा करते हैं और कम ऊर्जा का उपयोग करते हैं। हम एक अच्छा सार्वजनिक परिवहन नेटवर्क प्रदान करना चाहते हैं, जो लोगों के लिए सुलभ, सस्ती और सुविधाजनक हो।"

द्वीप-शहर वाले देश ने पहले ही अपने कुशल सार्वजनिक परिवहन नेटवर्क के विस्तार के लिए महत्वाकांक्षी योजनाओं की घोषणा की है। सिंगापुर ने 2030 तक अपने द्रुत द्रुतगामी पारगमन, एमआरटी नेटवर्क को 200 किमी से 360 किमी तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा है। मंत्री ने बताया, "हम सिंगापुर को 45 मिनट का शहर-देश बनाना चाहते हैं, इसका मतलब है कि घर से कार्यस्थल तक की अधिकांश यात्रा में पीक आवर्स के दौरान 45 मिनट से ज्यादा का समय नहीं लगेगा।"

इसलिए, उनका मानना है कि लोग कारों पर सार्वजनिक परिवहन का चयन करेंगे। उन्होंने कहा, "चाहे इलेक्ट्रिक हो या नॉन इलेक्ट्रिक, यह एक कार है (ट्रैफिक कंजेशन का कारण)। इसलिए परिवहन के लिए हमारा दृष्टिकोण सार्वजनिक परिवहन को पहली पसंद और जीवन शैली पसंद के रूप में सक्षम करना है।"

अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302823054

WAM/Hindi