COVID-19 लक्षणों वाले लोगों को चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए: अभिनेता


दुबई, 19 मार्च, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- एक दक्षिण भारतीय फिल्म स्टार, जो यूएई में कोरोनावायरस, सीओवीआईडी-19 से पीड़ित हो गए, ने अपने अनुभव के बारे में बताया कि परीक्षण और संबंधित उपचार के बारे में डर और चिंताएं निराधार थीं। अमीरात समाचार एजेंसी (डब्ल्यूएएम) से बातचीत करते हुए रवीन्द्रन ने बताया कि उन्होंने पिछले हफ्ते COVID-19 पर अपनी बेटी के पॉजिटिव परीक्षण के बाद उन्होंने खुद स्वास्थ्य अधिकारियों को सूचना दी। अभिनेता ने कहा, "एक अस्पताल में अलगाव में उपचार की कुछ असुविधा और एक नकारात्मक परिणाम प्राप्त करना संक्रमण न होने के अंधे विश्वास से कहीं बेहतर था। अन्यथा हम दूसरों को घातक बीमारी पहुंचा सकते हैं यह लगभग एक सामूहिक हत्या करने जैसा है।"

दक्षिण भारतीय राज्य केरल के यह अभिनेता जो कुछ वर्षों से अपनी फिल्म और कार्यक्रमों के संबंध में यूएई में रह रहे हैं। रवीन्द्र ने कहा, "हालांकि मैं चिंतित और घबराया हुआ था, जिससे रक्तचाप में बदलाव और समग्र शारीरिक असुविधाएं पैदा हुईं। यूएई की स्वास्थ्य प्रणाली ने मेरी गोपनीयता को प्रभावित किए बिना मेरा उपचार किया, जिससे मुझे बहुत आसानी हुई।"

रवीन्द्र ने 1980 के दशक से दक्षिण भारतीय सिनेमा के दिग्गजों जैसे शिवाजी गणेशन, रजनीकांत, कमल हासन, ममूटी और मोहनलाल के साथ प्रमुख भूमिकाएं निभाई थीं। उनकी स्त्री रोग विशेषज्ञ बेटी 8 मार्च को उनके साथ कुछ समय बिताने के लिए फ्रांस से यूएई आई थी। अगले दिन उन्हें लगा कि उन्हें COVID-19 लक्षण हैं। उन्हें वह एक क्लिनिक ले गए और स्वैब परीक्षण किया। 10 मार्च की शाम, स्वास्थ्य अधिकारियों ने एक एंबुलेंस भेजी और उसे अस्पताल ले गए। उन्हें COVID-19 परीक्षण से गुजरने के लिए कहा गया, उनके कोई लक्षण नहीं थे। उन्होंने आपातकालीन नंबर पर कॉल किया और एक एंबुलेंस उन्हें एक निजी अस्पताल ले गई। तीसरे दिन उनके डॉक्टर ने उन्हें बताया कि उनका परीक्षण परिणाम नेगेटिव था। 13 मार्च को नेगेटिव परीक्षण आने के बाद अस्पताल से छुट्टी मिलते ही उन्होंने तुरंत ही अपने सभी दोस्तों और परिचितों को "खुशखबरी" दी। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302831819

WAM/Hindi