यूएई ने अदन में दो ईआरसी कर्मचारियों की हत्या की निंदा की


अबू धाबी, 20 मार्च, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- संयुक्त अरब अमीरात ने यमन के अदन में सक्रिय दो अमीरात रेड क्रिसेंट (ईआरसी) मानवीय सहायता कर्मचारियों की हत्या की कड़ी निंदा की है। विदेश मंत्रालय और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में इन आपराधिक कृत्यों की निंदा की गई है। इसमें सभी धार्मिक और मानवीय मूल्यों व सिद्धांतों के उल्लंघन में सुरक्षा और स्थिरता को कमजोर करने के उद्देश्य से हिंसा और आतंकवाद के सभी रूपों को अस्वीकृत किया है। मंत्रालय ने पीड़ितों के परिवारों और अमीरात रेड क्रिसेंट के प्रति अपनी गंभीर संवेदना व्यक्त की और मंत्रालय ने यह भी दोहराया कि मानवीय सहायता कर्मचारियों को लक्षित करना सभी अंतरराष्ट्रीय संधियों का एक हिंसक उल्लंघन है, जो राहतकर्मियों और बचाव दस्तों की सुरक्षा सुनिश्चित करता है। बयान में आगे कहा गया, "मंत्रालय यमन में अमीरात रेड क्रीसेंट अथॉरिटी द्वारा और दुनिया भर के अन्य देशों में सभी प्रकार की सहायता प्रदान करने और प्रभावित परिवारों और व्यक्तियों की पीड़ा को कम करने के लिए मानवीय प्रयासों को महत्व देता है।"

अनुवादः एस. कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302832020

WAM/Hindi