गुरुवार 06 अगस्त 2020 - 6:06:01 एएम

बराक परमाणु ऊर्जा संयंत्र की यूनिट 1 का सुरक्षित स्टार्ट-अप सफलतापूर्वक हासिल

  • مؤسسة الإمارات للطاقة النووية تعلن بداية التشغيل الآمن لأولى محطات براكة للطاقة النووية السلمية
  • مؤسسة الإمارات للطاقة النووية تعلن بداية التشغيل الآمن لأولى محطات براكة للطاقة النووية السلمية
  • مؤسسة الإمارات للطاقة النووية تعلن بداية التشغيل الآمن لأولى محطات براكة للطاقة النووية السلمية
  • مؤسسة الإمارات للطاقة النووية تعلن بداية التشغيل الآمن لأولى محطات براكة للطاقة النووية السلمية
विडियो तस्वीर

उत्सर्जन-मुक्त बिजली की आगामी पीढ़ी के लिए स्टार्ट-अप प्रक्रिया में एक बड़ा कदम है - प्रक्रिया परमाणु गुणवत्ता और सुरक्षा के लिए नियामक आवश्यकताओं और उच्चतम अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप शुरू की गई अबू धाबी, 1 अगस्त, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- एमिरेट्स न्युक्लियर एनर्जी कॉरपोरेशन (ईएनईसी) ने आज घोषणा किया है कि उसकी परिचालन और रखरखाव सहायक नवाह एनर्जी कंपनी (नवाह) ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अबू धाबी के अल धफराह क्षेत्र में स्थित बराक परमाणु ऊर्जा संयंत्र की यूनिट 1 को सफलतापूर्वक शुरू किया है। यह कदम यूएई के शांतिपूर्ण परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम के वितरण में अब तक का सबसे ऐतिहासिक मील का पत्थर है, जो कम से कम अगले 60 सालों के लिए देश के लिए स्वच्छ बिजली पैदा करने की प्रक्रिया का हिस्सा होगा। फरवरी 2020 में फेडरल अथॉरिटी फॉर न्यूक्लियर रेगुलेशन (एफएएनआर) से ऑपरेटिंग लाइसेंस प्राप्त करने और मार्च 2020 में फ्यूल असेंबली लोडिंग का काम पूरा होने के बाद से ईएनईसी और कोरिया इलेक्ट्रिक पावर कॉरपोरेशन (केईपीसीओ) के संयुक्त उद्यम परमाणु संचालन और रखरखाव सहायक नवाह बराक संयंत्र के पहले परमाणु ऊर्जा रिएक्टर को सफलतापूर्वक पूरा करने से पहले एक व्यापक परीक्षण कार्यक्रम के माध्यम से सुरक्षित रूप से प्रगति कर रहे हैं। यूनिट 1 के स्टार्ट-अप ने पहली बार चिह्नित किया कि रिएक्टर सुरक्षित रूप से गर्मी पैदा करता है, जिसका उपयोग बिजली पैदा करने के लिए टरबाइन को घुमाकर भाप बनाने के लिए किया जाता है। परमाणु संचालकों को नवाह की योग्य और लाइसेंस प्राप्त टीम प्रक्रिया को नियंत्रित करने और रिएक्टर के बिजली उत्पादन को नियंत्रित करने पर ध्यान केंद्रित करती है। कई हफ्तों और कई सुरक्षा परीक्षणों को पूरा करने के बाद यूनिट 1 यूएई के बिजली ग्रिड से जुड़ने के लिए तैयार हो जाएगा, जिससे देश के घरों और व्यवसायों को स्वच्छ बिजली की पहली मेगावाट वितरित की जाएगी। परीक्षण यूएई के स्वतंत्र परमाणु नियामक, एफएएनआर के निरंतर निरीक्षण के साथ किया गया है। साथ ही ऑपरेटिंग लाइसेंस प्राप्त करने से पहले जनवरी 2020 में प्री स्टार्ट-अप रिव्यू (पीएसयूआर) के पूरा होने पर वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ न्यूक्लियर ऑपरेटर (डब्ल्यूएएनओ) का अनुसरण करता है, जो सुनिश्चित करता है कि यूनिट 1 परमाणु ऊर्जा उद्योग में अंतर्राष्ट्रीय सर्वोत्तम अभ्यास के साथ संरेखित है। ईएनईसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहम्मद इब्राहिम अल हम्मादी ने कहा, "आज यूएई के लिए ऐतिहासिक क्षण है। यह एक दशक से अधिक की दृष्टि, रणनीतिक योजना और मजबूत कार्यक्रम प्रबंधन की पराकाष्ठा है। हाल की वैश्विक चुनौतियों के बावजूद हमारी टीम ने यूनिट 1 की सुरक्षित डिलीवरी के लिए उत्कृष्ट लचीलापन और प्रतिबद्धता का प्रदर्शन किया है। अब हम अपने देश की बिजली की जरूरतों के एक चौथाई तक आपूर्ति करने के अपने लक्ष्य को प्राप्त करने व सुरक्षित, विश्वसनीय और उत्सर्जन-मुक्त बिजली के साथ अपने भविष्य के विकास को प्राप्त करने के करीब हैं।"

उन्होंने कहा, "हमारे नेतृत्व के दृष्टिकोण की प्राप्ति के माध्यम से बराक परमाणु ऊर्जा संयंत्र राष्ट्र के विकास का एक इंजन बन गया है। यह यूएई की 25 फीसदी बिजली को शून्य कार्बन उत्सर्जन के साथ वितरित करेगा, जबकि एक स्थायी स्थानीय परमाणु ऊर्जा उद्योग और आपूर्ति श्रृंखला की स्थापना के माध्यम से हजारों रोजगार बनाकर आर्थिक विविधीकरण का सहयोग करेगा। हम अपने यूएई हितधारकों और कोरियाई भागीदारों के सहयोग के साथ इस उल्लेखनीय उपलब्धि को बनाने में उनके निरंतर सहयोग के लिए नेतृत्व के आभारी हैं। साथ ही इस ऐतिहासिक अवसर पर कार्यक्रम में शामिल सभी को बधाई देते हैं।"

एक बार यूनिट ग्रिड से जुड़ने के बाद परमाणु संचालक धीरे-धीरे बिजली के स्तर को बढ़ाने की प्रक्रिया के साथ जारी रखेंगे, जिसे पावर एस्केन्शन टेस्टिंग (पीएटी) के रूप में जाना जाता है। कुल मिलाकर, यूनिट 1 की प्रणालियों की निरंतर निगरानी और परीक्षण किया जाता है क्योंकि यूनिट सभी नियामक आवश्यकताओं और सुरक्षा, गुणवत्ता और सुरक्षा के उच्चतम अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप पूर्ण बिजली उत्पादन की ओर बढ़ती है। एक बार जब यह प्रक्रिया कई महीनों के दौरान पूरी हो जाती है, तो संयंत्र आने वाले दशकों के लिए यूएई के विकास और समृद्धि को पूरा करने के लिए पूरी क्षमता से अधिक बिजली वितरित करेगा। यूएई परमाणु ऊर्जा संचालन पर बात करते हुए नवाह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इंजीनियर अली अल हम्मादी ने कहा, "यूनिट 1 का स्टार्ट-अप नवाह एनर्जी कंपनी के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है क्योंकि हम सुरक्षा और गुणवत्ता के उच्चतम अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार संयंत्र को संचालित करने और बनाए रखने के लिए अपने जनादेश को पूरा करते हैं। यह वैश्विक परमाणु उद्योग की विशेषज्ञता का लाभ उठाकर पूरे कमीशन और स्टार्टअप प्रक्रिया के दौरान उच्चतम सुरक्षा, गुणवत्ता और परिचालन पारदर्शिता मानकों को बनाए रखने की हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है। इंजीनियर अली अल हम्मादी ने कहा, मुझे विशेष रूप से हमारे प्रतिभाशाली यूएई राष्ट्रीय इंजीनियरों और परमाणु पेशेवरों पर गर्व है, जिन्होंने यूनिट 1 के निर्माण में योगदान दिया है।"

यूएई अरब दुनिया का पहला और वैश्विक स्तर पर 33वां देश है, जिसने सुरक्षित, स्वच्छ और विश्वसनीय बेसलोड बिजली बनाने के लिए परमाणु ऊर्जा संयंत्र विकसित किया है। यूएई द्वारा अपने ऊर्जा क्षेत्र के विद्युतीकरण और बिजली उत्पादन के डिकार्बनाइजेशन की दिशा में आगे बढ़ने के प्रयासों में संयंत्र महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है। जब पूरी तरह से चालू हो जाएगा, तो संयंत्र हर साल 21 मिलियन टन से अधिक कार्बन उत्सर्जन को रोकने के लिए 5.6 गीगावाट बिजली का उत्पादन करेगा। 2009 में यूएई के शांतिपूर्ण परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम की शुरुआत के बाद से ईएनईसी ने एफएएनआर के मजबूत नियामक ढांचे के अनुरूप इंटरनेशनल एटॉमिक एनर्जी एजेंसी (आईएईए) और डब्ल्यूएएनओ सहित अंतर्राष्ट्रीय परमाणु निकायों के साथ मिलकर काम किया है। ईएनईसी ने हाल ही में यूनिट 2 के निर्माण को पूरा करने की घोषणा की है। इसके संचालन की तैयारी नवाह द्वारा की जा रही है। बराक परमाणु ऊर्जा संयंत्र की यूनिट्स 3 और 4 का निर्माण अंतिम चरण में है, जिसका समग्र निर्माण अब चार यूनिट्स के 94 फीसदी पर पूरा होगा। अनुवादः एस कुमार.

http://www.wam.ae/en/details/1395302859575

WAM/Hindi