शनिवार 26 सितम्बर 2020 - 3:28:32 एएम

डब्ल्यूएएम रिपोर्ट: यूएई-इजरायल शांति समझौते से क्षेत्र की स्थिरता मजबूत होगी, विकास होगा


अबू धाबी, 15 सितंबर, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- यूएई और इजरायल द्वारा वाशिंगटन में आज हस्ताक्षर किए गए शांति समझौते से मध्य पूर्व क्षेत्र में सुरक्षा और स्थिरता को मजबूत करने का एक अवसर मिला है। समझौते पर अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया से यह सुनिश्चित होता है कि यह एक ऐतिहासिक कदम है, जो समग्र शांति प्रक्रिया को पुनर्जीवित करेगा और भू राजनीतिक परिवर्तनों और क्षेत्र के सामने सुरक्षा व विकास चुनौतियों को पार करेगा। यूएई ने जोर देकर कहा कि समझौते पर हस्ताक्षर अपने स्वयं के निर्णयों पर संप्रभुता को उजागर करता है और यह किसी भी पक्ष के खिलाफ पक्षपातपूर्ण नहीं है। उन्होंने कहा कि यह मुख्य रूप से राजनीतिक रुख और सामान्य संबंधों के बीच अंतर करना है, जो यह विश्वास करता है कि इस क्षेत्र में समृद्धि और स्थिरता की नई संभावनाएं खुलेंगी। यह फिलिस्तीन पर निष्पक्ष और स्थायी समाधान तक पहुंचने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। यूएई फिलिस्तीनी प्राधिकरण को वित्तीय सहायता प्रदान करने के मामले में विश्व स्तर पर चौथे स्थान पर है। यूएई ने कहा है कि यह हमेशा फिलिस्तीनी समुदाय का स्वागत करेगा, जिसने यूएई के विकास में पिछले दशकों में सकारात्मक भूमिका निभाई है। इस महीने की शुरुआत में, "अमीराती-फिलिस्तीनी फ्रेंडशिप क्लब" की स्थापना संचार को बढ़ावा देने और समग्र अमीराती-फिलिस्तीनी संबंधों को बढ़ाने के लिए की गई थी। शांति समझौते का उद्देश्य ज्ञान आधारित अर्थव्यवस्था बनाने, सभी क्षेत्रों में उन्नत प्रौद्योगिकियों व नवाचार को अपनाने की सुविधा प्रदान करने, सुरक्षा व स्थिरता प्राप्त करने के आधार पर एक नई प्रणाली को फिर से स्थापित करने और क्षेत्र के लोगों के लिए विकास के अवसर पैदा करना है। दोनों देशों ने कई महत्वपूर्ण क्षेत्रों में अपने द्विपक्षीय सहयोग को मजबूत करने के लिए कदम उठाए हैं। अनुवादः एस कुमार.

http://www.wam.ae/en/details/1395302870147

WAM/Hindi