सोमवार 18 जनवरी 2021 - 2:52:48 एएम

शारजाह इंटरनेशनल बुक फेयर 2020 शुरू

  • معرض الشارقة للكتاب يفتح صفحة جديدة من فصول المعرفة العربية و العالمية
  • معرض الشارقة للكتاب يفتح صفحة جديدة من فصول المعرفة العربية و العالمية
  • معرض الشارقة للكتاب يفتح صفحة جديدة من فصول المعرفة العربية و العالمية
  • معرض الشارقة للكتاب يفتح صفحة جديدة من فصول المعرفة العربية و العالمية
  • معرض الشارقة للكتاب يفتح صفحة جديدة من فصول المعرفة العربية و العالمية
  • معرض الشارقة للكتاب يفتح صفحة جديدة من فصول المعرفة العربية و العالمية

शारजाह, 4 नवंबर, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- एक्सपो सेंटर शारजाह में आज से शारजाह इंटरनेशनल बुक फेयर (एसआईबीएफ) 2020 का 39वां संस्करण शुरू हो गया। शारजाह ने इसके जरिए विश्व स्तर पर प्रतीक्षित वार्षिक सांस्कृतिक उत्सव के लिए दरवाजे खोले। इसका समापन 14 नवंबर, 2020 को होगा। एसआईबीएफ 2020 का आयोजन शारजाह बुक अथॉरिटी (एसबीए) द्वारा किया गया है और यह "द वर्ल्ड रीड्स फ्रॉम शारजाह" थीम के तहत है। एक्सपो सेंटर शारजाह मेले में 73 देशों के 1,024 प्रकाशकों द्वारा एक लाख से अधिक पुस्तकों का प्रदर्शन किया जाएगा। एसबीए के चेयरमैन अहमद बिन रक्कड़ अल अमेरी ने कहा, "एसबीए ने सभी निवारक उपाय किए हैं, जो अमीरात में प्रासंगिक संस्थाओं के साथ मिलकर उच्चतम सुरक्षा मानकों को पूरा करते हैं और जनता से अनुरोध है कि वे प्रवेश करते समय हर एहतियात उपाय का पालन करें।"

उन्होंने कहा कि एसआईबीएफ 2020 यूएई में ज्ञान और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए शारजाह की प्रतिबद्धता को स्वीकार करता है। एक्सपो विजिटर्स को registration.sibf.com के माध्यम से तीन घंटे पहले विजिटेशन स्लॉट को प्री-बुक करना होगा। उन्हें रंगीन ब्रेसलेट दिए जाएंगे जिससे उनकी निगरानी की जा सकेगी। मेले के हॉल और प्रकाशक स्टॉल को दैनिक रूप से साफ और कीटाणुरहित किया जाएगा। 60 प्रसिद्ध लेखकों, बुद्धिजीवियों, कवियों, राजनेताओं और 19 देशों के कलाकारों के साथ 64 रोमांचक चर्चाओं वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम "शारजाह रीड्स " वर्चुअल मंच पर शुरू हो गए हैं। चर्चा और कार्यशालाओं के लिए पंजीकरण sharjahreads.com पर किए जा सकते हैं। 11-दिवसीय कार्यक्रम में भाग लेने वाले साहित्यकारों और वैश्विक सांस्कृतिक हस्तियों में प्रिंस ईए, रॉबर्ट कियोसाकी, यान मार्टेल, नील पसरीचा, रविंदर सिंह, अहमद मुराद, अहमद अल-रिफाई, मिशल हमद, सुल्तान अल अम्मी, इमान अल यूसेफ आदि शामिल हैं। एसबीए छात्रों और उनके पसंदीदा लेखकों और सांस्कृतिक हस्तियों के बीच वर्चुअल बैठकों की मेजबानी करने के लिए शिक्षा मंत्रालय के साथ सहयोग कर रहा है। इसने सभी आयु समूहों के लिए सोशल मीडिया कार्यशालाओं के व्यापक कार्यक्रम की भी घोषणा की है। अनुवादः एस कुमार.

https://wam.ae/en/details/1395302883602

WAM/Hindi