बुधवार 25 नवंबर 2020 - 6:29:27 पीएम

एशियाई देशों ने एडीआईपीईसी वर्चुअल 2020 में अधिक तेल और गैस उत्पादक-उपभोक्ता सहयोग का आग्रह किया


अबू धाबी, 10 नवंबर, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- एशिया भर के मंत्रियों ने तेल और गैस उत्पादक देशों के बीच अधिक से अधिक सहयोग को बढ़ावा देने के लिए एडीआईपीईसी 2020 वर्चुअल कॉन्फ्रेंस और प्रदर्शनी का उपयोग किया है। एडीआईपीईसी 2020 वर्चुअल स्ट्रेटेजिक कॉन्फ्रेंस में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए 2020 में सबसे बड़ी तेल और गैस की इवेंट में से एक जापान, भारत और थाईलैंड के मंत्रियों ने अपने विश्वास को व्यक्त किया और कहा कि यह सहयोग ऊर्जा क्षेत्र की चुनौतियों पर काबू पाने और कार्बन उत्सर्जन में कमी लाने के लिए ऊर्जा रणनीति बदलाव को आगे बढ़ाने का मार्ग है। जापान के अर्थव्यवस्था, व्यापार और उद्योग मंत्री काइयोमा हिरोशी ने कहा कि जापान एक हाइड्रोजन समाज को प्राप्त करने के लिए कठोर कदम उठाएगा। इसमें एक अंतरराष्ट्रीय आपूर्ति श्रृंखला की स्थापना भी शामिल है, जिसमें तेल उत्पादक देशों और ईंधन अमोनिया के लिए नए लक्ष्य शामिल हैं। भारत के पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस तथा इस्‍पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि उनका देश अगले कुछ दशकों तक वैश्विक ऊर्जा मांग का प्रमुख चालक होगा। उन्होंने अनुमान लगाया कि भारत 2050 तक वैश्विक ऊर्जा मांग का 12 फीसदी हिस्सा होगा। एडीआईपीईसी 2020 वर्चुअल दुनिया की सबसे बड़ी वार्षिक तेल और गैस प्रदर्शनी और संबंधित सम्मेलन का ऑनलाइन संस्करण, 12 नवंबर तक यूएई के राष्ट्रपति हिज हाइनेस शेख खलीफा बिन जायद अल नहयान के संरक्षण में आयोजित किया जा रहा है। यह एडीएनओसी की मेजबानी में और अबू धाबी राष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र में डीएमजी इवेंट द्वारा आयोजित किया जा रहा है। अनुवादः एस कुमार.

http://www.wam.ae/en/details/1395302885192

WAM/Hindi