रविवार 18 अप्रैल 2021 - 9:18:04 पीएम

यूएई सरकार 'यूएई पास' ऐप के तहत ग्राहकों को पंजीकृत करने के लिए बायोमेट्रिक फेस रिकॉग्निशन नियोजित करेगी

  • حكومة الإمارات تفعل بصمة الوجه لتسجيل المتعاملين في الهوية الرقمية
  • حكومة الإمارات تفعل بصمة الوجه لتسجيل المتعاملين في الهوية الرقمية
  • حكومة الإمارات تفعل بصمة الوجه لتسجيل المتعاملين في الهوية الرقمية
  • حكومة الإمارات تفعل بصمة الوجه لتسجيل المتعاملين في الهوية الرقمية
  • حكومة الإمارات تفعل بصمة الوجه لتسجيل المتعاملين في الهوية الرقمية
  • حكومة الإمارات تفعل بصمة الوجه لتسجيل المتعاملين في الهوية الرقمية
  • وفد أردني يطلع على تجربة حكومة الإمارات في تطوير الخدمات
  • حكومة الإمارات تفعل بصمة الوجه لتسجيل المتعاملين في الهوية الرقمية

दुबई, 7 अप्रैल 2021 (डब्ल्यूएएम) -- यूएई सरकार ने घोषणा किया कि वह नागरिकों व निवासियों के लिए पहली सुरक्षित डिजिटल राष्ट्रीय आईडी लॉन्च करने की अपनी योजना के रूप में "यूएई पास" एप्लीकेशन में ग्राहकों को पंजीकृत करने के लिए बायोमेट्रिक फेस रिकग्निशन (फेशियल आईडी) का इस्तेमाल करेगी। यूएई पास ऐप पहला राष्ट्रीय डिजिटल पहचान और हस्ताक्षर समाधान है, जो उपयोगकर्ताओं को स्मार्टफोन आधारित प्रमाणीकरण के माध्यम से सभी अमीरात में सरकारी सेवा प्रदाताओं के लिए खुद की पहचान साबित करने में सक्षम बनाता है। यह उपयोगकर्ताओं को उच्च स्तर के साथ डिजिटल रूप से दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करने में सक्षम बनाता है। यह ऐप डिजिटल परिवर्तन को साकार करने और कागजी लेनदेन को खत्म करने में यूएई के सरकारी लक्ष्यों को पूरा करता है। फेशियल आईडी एक स्मार्ट तकनीक है, जिसका उद्देश्य सरकार को विभिन्न क्षेत्रों में नियोजित करना है, ताकि इसके फायदे और सार्वजनिक व निजी क्षेत्र की सेवाओं को बढ़ाया जा सके। यूएई सरकार बायोमेट्रिक फेशियल रिकग्निशन टेक्नोलॉजी को अपनाने में दुनिया की सरकारों का नेतृत्व करती है, जिसका उद्देश्य समुदाय के सदस्यों के जीवन को सुगम बनाना और उन्हें डिजिटल सरकारी सेवाओं तक पहुंचने के लिए सक्षम करके एक आसान, तेज और कुशल ग्राहक अनुभव प्रदान करना है। मौजूदा यूएई पास ऐप पर पंजीकृत लोगों की संख्या 1.38 मिलियन से अधिक है, जिसमें वेरिफ़िएड एकाउंट्स वाले 628,000 व्यक्ति शामिल हैं। यूएई सरकार में सरकारी सेवाओं के प्रमुख मोहम्मद बिन तलैया ने कहा कि समुदाय के सभी वर्गों के जीवन को सुविधाजनक बनाने वाली उन्नत अवधारणाओं, उपकरणों और सक्रिय सेवाओं को अपनाने से यूएई सरकार के स्थायी दृष्टिकोण को दर्शाता है और ग्राहकों की अपेक्षाओं को पूरा करने वाली सेवाओं को अपनाने के लिए उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और दुबई के शासक हिज शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम के निर्देशों को लागू करता है। यूएई सरकार के डिजिटल सरकार के प्रमुख, दूरसंचार और डिजिटल सरकारी नियामक प्राधिकरण के महानिदेशक हमद ओबैद अल मंसूरी ने कहा कि डिजिटल आईडी ऐप की पंजीकरण प्रक्रिया में चेहरे की पहचान तकनीक का उपयोग यूएई में डिजिटल जीवन शैली स्थापित करने के लिए आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस (एआई) पर आधारित उभरती प्रौद्योगिकियों के कार्यान्वयन की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने परियोजना की टीमों के प्रयासों की भी प्रशंसा की। डिजिटल आईडी एप्लिकेशन में बायोमेट्रिक फेशियल रिकॉग्निशन के उपयोग के साथ सरकारी बैंक केंद्रों पर जाने की आवश्यकता के बिना पांच मिनट से कम समय में एक वेरिफ़िएड एकाउंट बनाया जा सकता है। पंजीकरण प्रक्रिया का उपयोग करने में 20 मिनट लगते हैं और पंजीकरणकर्ताओं को सरकारी सेवा केंद्रों का दौरा करना पड़ता है। एप्लिकेशन ग्राहकों को सभी सरकारी व अर्ध-सरकारी वेबसाइटों और अनुप्रयोगों को सुरक्षित रूप से दर्ज करने में सक्षम बनाता है और 130 से अधिक सरकारी, अर्ध-सरकारी, संघीय और स्थानीय अधिकारियों द्वारा प्रदान की गई 6,000 से अधिक सेवाओं से लाभान्वित करता है। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302925206

WAM/Hindi