शुक्रवार 24 सितम्बर 2021 - 8:21:05 पीएम

बराक न्यूक्लियर एनर्जी प्लांट यूनिट 2 यूएई के ट्रांसमिशन ग्रिड से सफलतापूर्वक जुड़ी

  • 222
  • 111

अबू धाबी, 14 सितंबर, 2021 (डब्ल्यूएएम) -- अमीरात न्यूक्लियर एनर्जी कॉर्पोरेशन (ईएनईसी) ने आज घोषणा किया कि अगस्त के अंत में बराक न्यूक्लियर एनर्जी प्लांट की यूनिट 2 के शुरू होने के बाद इसके संचालन और रखरखाव की सहायक कंपनी नवाह एनर्जी कंपनी ने बराक संयंत्र में चार इकाइयों में से दूसरी से कार्बन मुक्त बिजली का पहला मेगावाट वितरित करने के लिए यूनिट को यूएई ग्रिड से सुरक्षित रूप से और सफलतापूर्वक कनेक्ट किया है। 27 अगस्त 2021 को यूनिट 2 के सुरक्षित और सफल स्टार्ट-अप के बाद बराक प्लांट यूएई और अरब दुनिया में पहला मल्टी-यूनिट ऑपरेटिंग न्यूक्लियर प्लांट बन गया। यह कड़े राष्ट्रीय विनियमों और अंतरराष्ट्रीय मानकों के साथ संयंत्र में इस उपलब्धि को हासिल करने वाली अमीराती की अगुवाई वाली टीमों के प्रमुख कौशल, योग्यता और दक्षताओं को पूरा करने में यूएई की विशेषज्ञता को दर्शाता है। बराक संयंत्र नए निर्माण परमाणु कार्यक्रमों के लिए नए मानक स्थापित करना जारी रखा है। यूनिट 1 पर संचालन टीमों द्वारा विकसित संचयी ज्ञान और विशेषज्ञता का उपयोग यूनिट 2 को ग्रिड से अधिक कुशलता से जोड़ने के लिए किया गया है, जबकि समानांतर में स्टार्ट-अप और कनेक्शन के बीच के समय में 10 फीसदी की कमी के साथ परमाणु सुरक्षा और परिचालन उत्कृष्टता के उच्चतम मानकों को लागू करना जारी है। यूनिट 2 ग्रिड कनेक्शन के सफलतापूर्वक पूरा होने के साथ यूनिट यूएई ग्रिड में एक और 1,400 मेगावाट स्वच्छ बिजली क्षमता जोड़ने की तैयारी में है, जो इस यूनिट से पहली मेगावाट उत्सर्जन मुक्त बिजली अब व्यवसायों, स्कूलों और घरों में भेजी जा रही है। यह महत्वपूर्ण उपलब्धि ईएनईसी और उसकी सहायक कंपनियों को देश की एक चौथाई बिजली की आपूर्ति के लक्ष्य के आधे रास्ते के करीब एक और कदम आगे ले जाता है, जबकि कार्बन उत्सर्जन में कमी जलवायु परिवर्तन का प्रमुख कारण है। ग्रिड कनेक्शन के दौरान, यूनिट 2 जनरेटर को वाणिज्यिक संचालन की शुरुआत से पहले यूएई के राष्ट्रीय बिजली ट्रांसमिशन ग्रिड की आवश्यकताओं के साथ एकीकृत और सिंक्रनाइज़ किया गया था। एकीकरण और कनेक्शन पूर्ण होने के साथ यूनिट 2 के परमाणु ऑपरेटर रिएक्टर के शक्ति स्तर को धीरे-धीरे बढ़ाने की प्रक्रिया शुरू करेंगे, जिसे पावर एसेंशन टेस्टिंग (पीएटी) के रूप में जाना जाता है। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान, यूनिट 2 सिस्टम पूरी तरह से बिजली उत्पादन की दिशा में आगे बढ़ने के लिए यूनिट को सुरक्षित रूप से प्रगति और परीक्षण करने के लिए अंतरराष्ट्रीय सर्वोत्तम अभ्यास का पालन करता है। यूनिट 1 कनेक्शन से सीखे गए सभी पाठों को संचालन उत्कृष्टता के लिए नवाह की प्रतिबद्धता के रूप में एकीकृत किया गया है। एक बार प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद यूनिट 2 आने वाले दशकों के लिए हजारों अतिरिक्त मेगावाट स्वच्छ बेसलोड बिजली वितरित करेगी। यह परीक्षण यूएई के स्वतंत्र परमाणु नियामक एफएएनआर की निरंतर निगरानी में किया जाएगा, जिसने बराक के विकास की शुरुआत के बाद से अब तक 335 से अधिक निरीक्षण किए हैं। बराक में नवाह टीमों ने अबू धाबी ट्रांसमिशन एंड डिस्पैच कंपनी (ट्रान्सको) के साथ मिलकर काम किया है, जो अबू धाबी नेशनल एनर्जी कंपनी (टीएक्यूए) की सहायक कंपनी है, जिन्होंने बराक परमाणु ऊर्जा संयंत्र को अबू धाबी ग्रिड से जोड़ने के लिए ओवरहेड लाइनों का निर्माण किया है। बराक प्लांट से लाखों व्यवसायों और घरों को अधिक मात्रा में स्वच्छ बिजली प्रदान करके ईएनईसी इस क्षेत्र में सबसे बड़े डीकार्बोनाइजेशन प्रयास का नेतृत्व कर रहा है, क्योंकि प्लांट अब यूएई और अरब दुनिया में स्वच्छ बिजली का सबसे बड़ा एकल स्रोत है। अबू धाबी अमीरात के अल धफरा क्षेत्र में स्थित बराक संयंत्र चार एपीआर-1400 इकाइयों के साथ दुनिया के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्रों में से एक है। संयंत्र का निर्माण 2012 में शुरू हुआ और तब से लगातार प्रगति कर रहा है। बराक संयंत्र का समग्र विकास अब 96 फीसदी से अधिक पूर्ण हो चुका है। पूरी तरह से चालू होने पर संयंत्र आने वाले 60 से अधिक सालों के लिए 5.6 गीगावाट मुफ्त कार्बन बिजली का उत्पादन करेगा। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302969754

WAM/Hindi