शुक्रवार 24 सितम्बर 2021 - 6:37:44 पीएम

जी20 स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में स्वास्थ्य मंत्रालय ने हिस्सा लिया


अबू धाबी, 14 सितंबर, 2021 (डब्ल्यूएएम) -- स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्रालय (एमओएचएपी) के प्रतिनिधित्व वाले यूएई ने जी20 स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में भाग लिया, जिसमें स्वास्थ्य क्षेत्र के कई मंत्रियों और अधिकारियों ने भाग लिया। यूएई के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्री डॉ. अब्दुल रहमान बिन मोहम्मद बिन नासिर अल ओवैस; अमीरात स्वास्थ्य सर्विसेज के महानिदेशक डॉ. युसुफ मोहम्मद अल सेर्कल और सहायक अवर सचिव और मंत्री के कार्यालय प्रबंधक नासिर अल बदौर ने किया था, जिसमें जी20 सदस्य देशों के सदस्यों, संबंधित अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रतिनिधियों और इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए आमंत्रित देशों के सदस्यों के साथ बैठक में भाग लिया। बैठक में निष्कर्ष निकाला गया कि जी20 देश कोविड-19 महामारी को पार करने के लिए दृढ़ हैं, चाहे स्वास्थ्य से संबंधित सतत विकास लक्ष्यों में प्रगति में तेजी आए और यह सुनिश्चित करें कि दुनिया किसी भी भविष्य की स्वास्थ्य आपात स्थिति का सामना करने, पता लगाने और प्रतिक्रिया देने के लिए तैयार है। प्रतिभागियों ने वैश्विक स्वास्थ्य सुरक्षा को बढ़ाने और जी20 के अनुभवों को व्यापक रूप से साझा करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ने पर सहमति व्यक्त की, ताकि महामारी के प्रभावों से बचने के लिए स्वास्थ्य प्रणालियों की क्षमताओं को मजबूत करने वाले दृष्टिकोण को अपनाया जा सके। भाग लेने वाले प्रतिनिधिमंडलों ने सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्राप्त करने और बनाए रखने के लिए स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र में निवेश करने की आवश्यकता पर बल दिया और मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं के महत्व को विशेष रूप से स्वास्थ्य आपातकाल के समय में सभी के लिए एक मजबूत, व्यापक और सुलभ प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली को बढ़ावा दिया। उन्होंने संभावित प्रकोपों की प्रारंभिक चेतावनी को विकसित करने व सुधारने, अनुसंधान पहलों को तेज करने और जोखिम मूल्यांकन दृष्टिकोण को मजबूत करने के अलावा अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य विनियमों के पूर्ण कार्यान्वयन, निगरानी, अनुपालन और बेहतर सहयोग सुनिश्चित करने के काम करने की अपनी इच्छा की पुष्टि की। मंत्रिस्तरीय बैठक के इतर मानसिक स्वास्थ्य पर एक सत्र भी आयोजित किया गया, जिसमें दुनिया भर में व्यक्तियों के मानसिक स्वास्थ्य के साथ सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) पर इसके प्रभाव के लिए कोविड-19 के प्रभाव से निपटा गया। सिद्धांतों और सिफारिशों ने महामारी के समय में मानसिक स्वास्थ्य के लिए पूरे समाज के दृष्टिकोण को अपनाने, स्वास्थ्य व सामाजिक देखभाल क्षेत्र में फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं के मानसिक स्वास्थ्य की रक्षा करने और अभिनव समाधानों और डिजिटल वातावरण के आधार पर मानसिक स्वास्थ्य दृष्टिकोण अपनाने के महत्व पर जोर दिया। अल ओवैस ने कहा, "जी20 स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में यूएई की भागीदारी वैश्विक प्रयासों का सहयोग करने, सहभागी देशों के बीच संयुक्त सहयोग, समन्वय और आदान-प्रदान के अनुभवों को मजबूत करने के लिए कोविड-19 महामारी का सामना करने के लिए प्रज्ञ नेतृत्व की दृष्टि के रूप में आती है। इसका उद्देश्य स्वास्थ्य आपात स्थितियों से कुशलतापूर्वक निपटने और स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र में एसडीजी हासिल करने के लिए दुनिया भर में स्वास्थ्य प्रणालियों को सशक्त बनाना और उनका सहयोग करना है। उन्होंने बताया कि यूएई ने सभी बैठकों में भाग लिया है और कई पहल व विचार सामने रखे हैं, जो महामारी को दूर करने के लिए समन्वित उपाय करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को मजबूत करने में योगदान करते हैं। अल ओवैस ने भाग लेने वाले देशों द्वारा प्रस्तुत रिपोर्टों की चर्चा और उनके अनुसार की गई सिफारिशों के फलदायी परिणामों की प्रशंसा की, जो महामारी को रोकने के लिए संयुक्त अंतर्राष्ट्रीय कार्रवाई को मजबूत करने में योगदान करते हैं। इन सभी तत्वों ने राष्ट्रीय लाभ को बनाए रखने और महामारी के अंत व पुनर्प्राप्ति चरण में प्रवेश करने के लिए आत्मविश्वास और आशावाद बढ़ाने में योगदान दिया है। स्वास्थ्य मंत्री ने संकेत दिया कि जी20 सदस्यों को साथ लाने वाली उच्च स्तरीय बैठकें व्यापक विकास पर महामारी का मुकाबला करने के लिए संयुक्त और प्रभावी ढांचे को तेज करने की गंभीरता और प्रतिबद्धता को दर्शाती हैं। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302969751

WAM/Hindi