इस्लामी अर्थव्यवस्था सेक्टर्स में उपभोक्ता में 2.2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर खर्च


दुबई, 11 नवंबर, 2019 (डब्ल्यूएएम) -- दुबई इस्लामिक इकोनॉमिक डेवलपमेंट सेंटर (डीआईईडीसी) ने स्टेट ऑफ द ग्लोबल इस्लामिक इकोनॉमी (एसजीआईई) रिपोर्ट 2019/20 के परिणामों की घोषणा की है। रिपोर्ट के सातवां संस्करण नैस्डैक दुबई द्वारा आयोजित समारोह में लॉन्च किया गया। रिपोर्ट का इस्लामिक अर्थव्यवस्था की निरंतर वैश्विक वृद्धि, हलाल उत्पादों, इस्लामिक वित्त और संबंधित जीवन शैली क्षेत्रों को शामिल करते हुए एक वार्षिक अपडेट प्रस्तुत किया गया है। इस साल की एसजीआईई रिपोर्ट जो यूएस-आधारित अनुसंधान और सलाहकार फर्म, डिनरस्टैंडर्ड द्वारा निर्मित है, का अनुमान है कि मुसलमानों ने 2018 में भोजन, दवा और जीवन शैली क्षेत्रों में 2.2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर खर्च किए, जो कि इस्लामिक विश्वास से प्रेरित नैतिक उपभोग की जरूरतों से प्रभावित है। यह खर्च साल-दर-साल बढ़ने वाली 5.2 फीसदी की स्वस्थ स्थिति को दर्शाता है। इसके अलावा 2018 में इस्लामिक वित्त परिसंपत्तियों के 2.5 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। ग्लोबल इस्लामिक इकोनॉमी इंडिकेटर पर 73 देशों को शामिल किया गया। इसमें मलेशिया, यूएई, बहरीन और सऊदी अरब ने रैंकिंग बरकरार रखी है, जिसमें इंडोनेशिया ने नंबर 10 से नंबर पांच तक सबसे बड़ी छलांग लगाई है। सात इस्लामिक इकोनॉमी सेक्टर की रैंकिंग में यूएई शीर्ष पर है। रिपोर्ट के परिणामों पर बोलते हुए अर्थव्यवस्था मंत्री और डीआईईडीसी के अध्यक्ष सुल्तान बिन सईद अल मंसूरी ने कहा, "यह पहल दुनिया भर की संस्थाओं के साथ कई व्यापार सहयोगों के माध्यम से वैश्वीकरण के दौर से गुजर रही है। मैं केंद्र की पहल के सफल कार्यान्वयन के लिए डीआईईडीसी और उसके रणनीतिक साझेदारों की सराहना करता हूं। इस तरह के लगातार प्रयासों ने यूएई में सतत विकास का सहयोग करते हुए और इसके आर्थिक विविधीकरण अभियान को आगे बढ़ाते हुए दुबई में इस्लामी अर्थव्यवस्था के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।"

दुबई इंटरनेशनल फाइनेंशियल सेंटर (डीआईएससी) के गवर्नर और डीआईईडीसी के महासचिव एस्सा काजिम ने कहा, "इस्लामिक अर्थव्यवस्था अपने क्षेत्रों में साल-दर-साल उल्लेखनीय वृद्धि हासिल कर रही है। रिपोर्ट से पता चलता है कि इस्लामिक वित्त संपत्ति 2018 में 2.5 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गई और इसके 2024 में 3.4 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है।"

एसजीआईई की रिपोर्ट 2019/20 सबसे बड़ी इस्लामी अर्थव्यवस्था समाचार और मीडिया प्लेटफॉर्म SalaamGateway.com की साझेदारी में तैयार की गई है। अनुवादः एस कुमार.

http://www.wam.ae/en/details/1395302801919

WAM/Hindi