सोमवार 13 जुलाई 2020 - 10:27:58 एएम

यूएई संयुक्त राष्ट्र में नागरिकों की सुरक्षा को बढ़ावा देने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा


न्यूयॉर्क, 28 मई, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- यूएई ने नागरिकों की सुरक्षा पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक खुली बहस के दौरान नागरिकों की रक्षा और अंतर्राष्ट्रीय कानून को बनाए रखने के लिए बयानबाजी और कार्रवाई के बीच की खाई को कम करने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दोहरायी है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अपने लिखित प्रस्तुतिकरण में यूएई ने कहा, "ये दुनिया भर के संघर्ष प्रभावित क्षेत्रों में नागरिकों के लिए मुश्किल समय हैं। मौजूदा खतरों के अलावा वे हिंसा, खाद्य असुरक्षा और विस्थापन का सामना करते हैं। तमाम खतरों के बीच कोविड-19 महामारी नागरिकों के लिए नया खतरा प्रस्तुत कर रहा है और उनकी सुरक्षा के लिए नई चुनौतियां प्रस्तुत कर रहा है। दुनिया भर के नागरिकों पर सशस्त्र संघर्ष के प्रभाव को कम करने के लिए यूएई ने वैश्विक युद्धविराम के लिए महासचिव एंटोनियो गुटेरेस की अपील को अपना समर्थन दिया है। जैसे कि उन्होंने रेखांकित किया कि यह नागरिकों की सुरक्षा के लिए सबसे प्रभावी तरीका है और साझा मानवता की याद दिलाने का एक अवसर भी है।"

कमजोर लोगों की रक्षा करना यूएई के मानवीय कार्यक्रमों और कोरोनावायरस महामारी के खिलाफ वैश्विक लड़ाई मं सहयोग करने के प्रयासों के मूल में है। यूएई ने दुबई के इंटरनेशनल ह्युमेनिटेरियन सिटी के माध्यम से महत्वपूर्ण चिकित्सा उपकरणों की वैश्विक डिलीवरी का सहयोग करने के लिए वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन के साथ भागीदारी की है। हाल ही में यूएई ने वर्ल्ड फूड प्रोग्राम के साथ साझेदारी में एक अंतर्राष्ट्रीय एयर ब्रिज ऑपरेशन शुरू किया, जो जीवन-रक्षक कार्गो और कर्मियों के आवाजाही को सक्षम करेगा, जहां उन्हें सबसे ज्यादा जरूरत है। यूएई ने परिषद से आग्रह किया कि यह नागरिकों के लिए बढ़ते खतरे को प्रभावी ढंग से हल करने और उनके अनुपालन को सुनिश्चित करे। यूएई ने अपने बयान में सुरक्षा परिषद को और अधिक नियमित रूप से अपने विचार-विमर्श में नागरिकों को डिजिटल तकनीकों के दुर्भावनापूर्ण उपयोग और जलवायु परिवर्तन जैसे खतरों से नागरिकों को बचाने के लिए बढ़ती चुनौतियों के प्रभाव पर विचार करने के लिए प्रोत्साहित किया। अनुवादः एस. कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302844978

WAM/Hindi