सोमवार 13 जुलाई 2020 - 10:25:34 एएम

फिलीपिन्स की नर्स ने अपने काम के लिए शेख मोहम्मद की सराहना को ‘आशा का संचार’ करार दिया

  • nurse jessa (2)
  • nurse jessa (3)
  • nurse jessa (1)
विडियो तस्वीर

दुबई, 28 मई, 2020 (डब्ल्यूएएम) -- फिलीपिन्स की एक नर्स के अनुसार, संक्रामक रोग से अलग-थलग कमरों में अकेलेपन से जूझ रहे रोगियों में आशा का संचार करना नर्सिंग के काम का एक प्रमुख हिस्सा है। दुबई के रशीद अस्पताल में संक्रामक रोग इकाई में एक स्टाफ नर्स 31 वर्षीय वर्षीया जेसा डॉन उबग ने कहा, "हमें लगता है कि हम निराशा के समय में अपने रोगियों को आध्यात्मिक, मानसिक और भावनात्मक सहयोग देने के लिए आशा का एक उपकरण हैं। इसी क्रम में जब अबू धाबी के क्राउन प्रिंस ने व्यक्तिगत रूप से मेरी सराहना की, मुझे लगा कि वह आशा फैलाने वाले सभी नर्सों को पहचान रहे थे।"

13 मई को शेख की आभासी मजलिस के तीसरे एपिसोड में अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और यूएई सशस्त्र बलों के उप सर्वोच्च कमांडर हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नहयान के साथ हुई बातचीत के अनुभव वह वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अमीरात समाचार एजेंसी (डब्ल्यूएएम) के साथ साझा कर रहीं थीं। शेख मोहम्मद ने कोविड-19 से लड़ाई में शामिल सभी फ्रंटलाइन चिकित्साकर्मियों की सराहना की है। छह साल से राशिद अस्पताल में काम कर रही उबग ने कहा, "उनके बातों ने मुझे और मेरे साथी नर्सों को बड़े पैमाने पर रोगियों और समुदाय में अधिक आशा फैलाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने मुझे एक बेहतर नर्स और आशा का बेहतर साधन बनने के लिए प्रेरित किया है।"

उन्होंने बताया कि नर्सिंग का पेशा संक्रामक रोग के रोगियों के संपर्क में आने की वजह से जोखिम भरा है। व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण, पीपीई पहने हुए कई घंटों के लिए अक्सर बुनियादी व्यक्तिगत आवश्यकताओं का त्याग करते हुए बहुत परेशानी होती है। उबग ने कहा, "जब मरीज गंभीर स्थिति में होते हैं और लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर डाल दिए जाते हैं, तो यह अधिक तनावपूर्ण होता है। हम (सहकर्मी) एक-दूसरे का सहयोग करते हैं और उन रोगियों को कहते हैं: ‘आप अकेले नहीं हैं, हम आपके साथ हैं।’"

उन्होंने कहा, "जब गंभीर रूप से बीमार रोगी ठीक हो जाते हैं और मुस्कुराते हुए घर जाते हैं, तो उनका हार्दिक धन्यवाद व्यक्त करते हुए हम अपनी नौकरी में अपने मानवीय स्पर्श के महत्व को महसूस करते हैं।"

उबग ने बताया, "इस देश ने अपने नागरिकों और विदेशियों के साथ एक जैसा व्यवहार किया है। दुनिया भर से सभी राष्ट्रीयताओं के लोगों को सहिष्णुता और स्वीकार करने के विचार ने एक सामाजिक वातावरण बनाया है, जो हमारे व्यावसायिक मूल्यों के साथ दया, सहानुभूति और दूसरों की देखभाल करने के साथ अच्छी तरह से प्रतिध्वनित होता है।"

शेख मोहम्मद से बात करते समय उन्हें आभास हुआ कि वह "किसी ऐसे व्यक्ति से बात कर रही है जो मुझे लंबे समय से जानता है।"

उन्होंने कहा, "उनसे सुनने और यह जानने के लिए एक अच्छा अनुभव था कि इस महामारी के दौरान हमारे सभी प्रयासों को बहुत सराहना मिली।"

अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302845089

WAM/Hindi