शनिवार 31 जुलाई 2021 - 1:43:03 पीएम

दुबई कस्टम, डीपी वर्ल्ड ने एग्जिट/एंट्री सर्टिफिकेट के ऑटोमेशन की शुरुआत की 


दुबई, 17 जुलाई, 2021 (डब्ल्यूएएम) -- दुबई कस्टम्स ने जेबेल अली पोर्ट से कार्गो लोड प्रक्रिया के निर्यात को बढ़ाने के लिए ऑटोमेशन ऑफ एग्जिट/ प्रवेश प्रमाण पत्र के साथ ही डीपी वर्ल्ड, यूएई रीजन के साथ हाथ मिलाया है। ग्राहक सेवा केंद्र पर प्रतिदिन औसतन 700 दस्तावेजों पर मुहर लगाई जाती थी, जिसका योग सालाना लगभग 250,000 से अधिक दस्तावेजों का होता है। एग्जिट सर्टिफिकेट ऑटोमेशन दुबई कस्टम्स में रिफंड क्लेम जमा करने की प्रक्रिया को आसान बनाता है, जिससे समय और लागत की बचत होती है, जबकि सभी प्रकार के सामानों के निर्यात में तेजी आती है। इस पर टिप्पणी करते हुए, दुबई कस्टम्स के महानिदेशक, अहमद महबूब मुसाबीह ने कहा, "हमें डीपी वर्ल्ड के सहयोग से ऑटोमेशन ऑफ एग्जिट/एंट्री सर्टिफिकेट पहल शुरू करने की खुशी है, जो दुबई कस्टम्स की कस्टम प्रक्रियाओं को स्वचालित करने और उन्नत लाभ उठाने की योजना के अंतर्गत आता है। ग्राहकों के समय और लागत को कम करने के लिए प्रौद्योगिकी जो वाणिज्यिक संचालन का समर्थन करती है और दुबई की वैश्विक व्यापार स्थिति को बढ़ाती है। हमारा उद्देश्य हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम, उपराष्ट्रपति, प्रधान मंत्री और दुबई के शासक के दृष्टिकोण को पूरा करना है। आने वाले वर्षों में दुबई के विदेश व्यापार को 2 ट्रिलियन एईडी तक बढ़ाएंगे।"

मुसाबीह ने आगे कहा, "कोविड-19 महामारी के दौरान हम एक नया कदम उठा रहे हैं।"

डीपी वर्ल्ड-यूएई रीजन और जाफजा के सीईओ और प्रबंध निदेशक अब्दुल्ला बिन दामिथन ने कहा, "दुबई कस्टम्स के सहयोग से एग्जिट/एंट्री सर्विसेज का ऑटोमेशन कोविड के कारण आपूर्ति श्रृंखला में अभूतपूर्व चुनौतियों को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।"

बिन दामिथन ने कहा, "डीपी वर्ल्ड, यूएई क्षेत्र हमेशा देश में डिजिटल इनोवेशन में सबसे आगे रहा है।"

इस पहल से धनवापसी प्रक्रिया में तेजी आएगी, क्योंकि ग्राहक अब जहाजों के लदान के तुरंत बाद धनवापसी के दावे जमा कर सकते हैं। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302953585

WAM/Hindi