शनिवार 27 नवंबर 2021 - 9:47:49 एएम

निवास व कार्य के लिए दुनिया की सबसे अच्छी जगह के रूप में यूएई चौथे स्थान पर - एचएसबीसी सर्वेक्षण


शारजाह, 19 अक्टूबर, 2021 (डब्ल्यूएएम) -- एचएसबीसी द्वारा मंगलवार को जारी एक नए सर्वेक्षण के अनुसार, यूएई को रहने और काम करने के लिए शीर्ष पांच सर्वश्रेष्ठ स्थानों में स्थान दिया गया है। देश वैश्विक स्तर पर 48 बाजारों में से चौथे स्थान पर पहुंचने के लिए दस स्थान उठा है। अधिकांश प्रवासी सामान्य रूप से जीवन पर सकारात्मक महसूस कर रहे हैं और बेहतर व्यक्तिगत वित्त के साथ कार्य-जीवन संतुलन की उम्मीद कर रहे हैं। स्विट्जरलैंड ने नंबर एक स्थान हासिल किया, उसके बाद ऑस्ट्रेलिया दूसरे स्थान पर और न्यूजीलैंड तीसरे स्थान पर रहा है। एचएसबीसी का एक्सपैट एक्सप्लोरर 2021 बैंक के लंबे समय से चल रहे अध्ययन का नई संस्करण है, जिसमें 20,000 से अधिक प्रवासी शामिल हैं। यह उन लोगों के जीवन की जांच करना चाहता है, जो विदेश में स्थानांतरित हो गए हैं। यह इस बात की अंतर्दृष्टि प्रदान करते हैं कि प्रवासी जीवन कैसा होता है। नई अपडेट में यूएई (82 फीसदी) में अधिकांश प्रवासियों ने कहा कि वे आशावादी महसूस करते हैं कि वैश्विक महामारी के बावजूद अगले 12 महीनों में जीवन फिर से अधिक स्थिर और सामान्य हो जाएगा। यह आंकड़ा वैश्विक औसत 75 फीसदी से अधिक है। यूएई के आधे से अधिक प्रवासी (53 फीसदी) भी अपनी आय में वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं, जबकि 57 फीसदी बेहतर कार्य जीवन संतुलन की उम्मीद कर रहे हैं। एचएसबीसी यूएई के सीईओ और अंतरराष्ट्रीय प्रमुख अब्दुलफत्ताह शराफ के अनुसार नवाचार, बुनियादी ढांचे, जीवन की गुणवत्ता, विविधता और समावेश पर देश के ध्यान ने यूएई को व्यवसायों और पेशेवरों के लिए पसंद का गंतव्य बना दिया है। यह पूछे जाने पर कि उन्हें यूएई में जाने के लिए क्या प्रेरित किया, 56 फीसदी प्रवासियों ने कहा कि वे अपनी कमाई में सुधार करना चाहते हैं, जबकि 49 फीसदी ने कहा कि वे "अपने करियर को आगे बढ़ाना" चाहते हैं। लगभग आधे (43 फीसदी) ने भी जीवन की बेहतर गुणवत्ता को यूएई में रहने का मुख्य कारण बताया। अध्ययन में यह भी पाया गया कि यूएई में दी जाने वाली जीवन की गुणवत्ता वह है, जो मूल रूप से योजना बनाई गई तुलना में प्रवासियों को अधिक समय तक रुकती है। यूएई में अधिकांश प्रवासियों (86 फीसदी) ने कहा कि उनके जीवन की समग्र गुणवत्ता उनके गृह देश से बेहतर है। प्रत्येक 10 में से छह प्रवासियों ने कहा कि वे इस कारण से अधिक समय तक रहने का इरादा रखते हैं। हालांकि, एक छोटी संख्या (11 फीसदी) ने कहा कि महामारी ने यूएई में रहने की उनकी योजना को बदल दिया है। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302982687

WAM/Hindi