सोमवार 30 जनवरी 2023 - 6:59:27 पीएम

यूएई के राष्ट्रपति ने 2023 को 'ईयर ऑफ सस्टेनेबिलिटी' घोषित किया


अबू धाबी, 20 जनवरी, 2023 (डब्ल्यूएएम) -- राष्ट्रपति हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नहयान ने घोषणा किया कि 2023 "ईयर ऑफ सस्टेनेबिलिटी" होगा।

"ईयर ऑफ सस्टेनेबिलिटी" में कई पहलें, गतिविधियां और कार्यक्रम शामिल होंगे, जो यूएई के स्थिरता के गहरे मूल्यों और इसके संस्थापक स्वर्गीय शेख जायद बिन सुल्तान अल नहयान की विरासत पर आधारित हैं। यह यूएई की राष्ट्रीय रणनीति के अनुरूप स्थायी प्रथाओं के प्रति राष्ट्रव्यापी प्रतिबद्धता के माध्यम से सामूहिक कार्रवाई को प्रेरित करके पर्यावरणीय स्थिरता पर भी ध्यान केंद्रित करेगा। यह उन सभी को एक साथ लाएगा, जो यूएई को समृद्ध भविष्य की दिशा में काम करने के लिए बुलाते हैं।

इस साल का उद्देश्य चुनौतियों जैसे ऊर्जा, जलवायु परिवर्तन और स्थिरता से संबंधित अन्य दबाव वाले मुद्दों के लिए अभिनव समाधान खोजने में वैश्विक सहयोग को बढ़ावा देने की दिशा में यूएई की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करना है।

साल भर चलने वाली पहलों की देखरेख उप प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति न्यायालय के मंत्री हिज हाइनेस शेख मंसूर बिन जायद अल नहयान और हिज हाइनेस शेखा मरियम बिन्त मोहम्मद बिन जायद अल नहयान द्वारा की जाती है।

राष्ट्रपति हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद ने कहा, "अपने एकीकरण के बाद से यूएई में स्थिरता एक मूलभूत सिद्धांत रहा है। राष्ट्र पर्यावरण संरक्षण और संसाधन प्रबंधन के लिए एक असाधारण मॉडल के रूप में काम करना जारी रखे हुए है। स्वर्गीय शेख जायद पर्यावरण और जलवायु कार्रवाई में एक वैश्विक नेता थे, जो एक ऐसी विरासत को पीछे छोड़ गए जिसका हम आज भी अनुसरण कर रहे हैं।”

हिज हाइनेस ने इस बात पर भी जोर दिया कि ईयर ऑफ सस्टेनेबिलिटी का विशेष महत्व है। यूएई 28वें संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन, पार्टियों के सम्मेलन (COP28) की मेजबानी करने की तैयारी कर रहा है। उन्होंने कहा कि यूएई COP28 के लिए जलवायु परिवर्तन को संबोधित करने के सामूहिक वैश्विक प्रयासों में एक मिसाल कायम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

हिज हाइनेस ने समुदाय के सदस्यों और संस्थानों को ईयर ऑफ सस्टेनेबिलिटी की पहल और गतिविधियों के साथ जुड़ने और सामूहिक प्रयासों में एक साथ आने के लिए आमंत्रित किया, जो देश को स्थिर भविष्य की ओर ले जाता है।

"ईयर ऑफ सस्टेनेबिलिटी" मौजूदा चुनौतियों को दूर करने और व्यक्तिगत और सामुदायिक स्तर पर स्थायी प्रथाओं को बढ़ावा देने में यूएई की प्रतिबद्धता को मजबूत करता है। उल्लेखनीय उदाहरणों में "नेट जीरो बाय 2050 स्ट्रेटेजिक इनिशिएटिव" शामिल है, जो पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए देश की प्रतिबद्धता और रहने व काम करने के लिए संपन्न समुदायों को आदर्श बनाने के प्रयासों का विवरण देता है।

यह घोषणा अबू धाबी सस्टेनेबिलिटी वीक 2023 के सफल समापन के बाद की गई है, जिसमें दुनिया भर के कई नेताओं और अधिकारियों ने भाग लिया। यह घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थिरता जागरूकता को बढ़ावा देने में एक नेता के रूप में यूएई की स्थिति को और मजबूत करता है और इससे जुड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत करता है।

यूएई लंबे समय से वैश्विक समुदाय के लाभ के लिए स्वच्छ ऊर्जा को बढ़ावा देने और प्रभावी साझेदारी बनाने में अग्रणी रहा है।

अनुवाद - एस कुमार.

https://wam.ae/en/details/1395303121020

Amrutha