यूएई व फ्रांस HTA उद्योगों के डीकार्बोनाइजेशन पर ध्यान केंद्रित करते हुए द्विपक्षीय साझेदारी बनाएंगे

यूएई व फ्रांस HTA उद्योगों के डीकार्बोनाइजेशन पर ध्यान केंद्रित करते हुए द्विपक्षीय साझेदारी बनाएंगे

अबू धाबी, 31 जनवरी 2023 (डब्ल्यूएएम) -- उद्योग और उन्नत प्रौद्योगिकी मंत्री, COP28 के लिए नामित-अध्यक्ष और मसदर के अध्यक्ष डॉ. सुल्तान बिन अहमद अल जाबेर ने कल फ्रांस के अर्थव्यवस्था, वित्त व औद्योगिक और डिजिटल संप्रभुता मंत्री ब्रूनो ले मायेर को फ्रांस के मंत्री की यूएई यात्रा के तहत सम्मानित किया।

COP28 जलवायु परिवर्तन सम्मेलन के आलोक में यूएई और फ्रांस ने एक द्विपक्षीय कार्यक्रम शुरू करने पर सहमति व्यक्त की है, जो वाणिज्यिक और निवेश योग्य अवसरों को विकसित करने के लिए फ्रांसीसी और अमीराती विशेषज्ञता को जोड़ती है।

पहल स्वच्छ और नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में अमीराती और फ्रांसीसी कंपनियों के बीच साझेदारी की सफलता पर आधारित है। दोनों देशों के औद्योगिक नेताओं ने दुनिया भर में 6.2 गीगावाट (GW) स्वच्छ और नवीकरणीय ऊर्जा कार्यक्रमों के विकास, निवेश और संचालन में भागीदारी की है।

इस साल नवंबर में दुबई में यूनाइटेड नेशंस फ्रेमवर्क कन्वेंशन फॉर क्लाइमेट चेंज (UNFCCC) के 28वें सत्र COP28 के दौरान कार्यक्रम के संचालन को आधिकारिक तौर पर लॉन्च किया जाएगा। कार्यक्रम का उद्देश्य आर्थिक क्षेत्रों के कार्बन पदचिह्न को कम करने की क्षमता के साथ नए स्वच्छ ऊर्जा समाधानों के विकास में योगदान देने वाली परियोजनाओं और सहयोग कंपनियों की पहचान व वित्तपोषण में तेजी लाने के लिए दोनों देशों की संयुक्त प्रतिबद्धता पर निर्माण करना है।

कार्यक्रम का उद्देश्य मुख्य रूप से HTA उद्योगों के डीकार्बोनाइजेशन पर ध्यान केंद्रित करने वाली परियोजनाओं को लागू करना होगा। यह उन कंपनियों का सहयोग करेगा जिन्होंने दोनों देशों की सार्वजनिक व निजी संस्थाओं की उत्पत्ति, औद्योगिक विशेषज्ञता और वित्तपोषण क्षमताओं का लाभ उठाते हुए ग्रीन हाइड्रोजन और स्थिर ईंधन में नए स्वच्छ ऊर्जा समाधान विकसित किए हैं। दोनों देशों की सरकारें योग्य जलवायु-अनुकूल परियोजनाओं को सुविधाजनक बनाने के लिए सार्वजनिक वित्त पोषण साधनों का लाभ उठाने का पता लगाएंगी।

इस द्विपक्षीय कार्यक्रम के माध्यम से यूएई और फ्रांस जलवायु परिवर्तन शमन और अनुकूलन के आयामों में ठोस, सकारात्मक प्रभाव देने और जैव विविधता पर अपनी जलवायु उन्मुख परियोजनाओं के प्रभाव को अनुकूलित करने का प्रयास करेंगे। निवेश योग्य अवसरों को संयुक्त रूप से विकसित किया जाएगा, जिसमें मसदर साझेदारी के यूएई पक्ष का नेतृत्व करेंगे। वे प्रासंगिक और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत पद्धति के आधार पर मूल्यांकन किए जाने वाले प्रत्येक अवसर के साथ जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौते के लक्ष्यों के साथ पूरी तरह से संरेखित करने का लक्ष्य रखेंगे।

डॉ. अल जाबेर ने कहा, "यह पहल कम कार्बन विकास के लिए व्यावहारिक, वाणिज्यिक अवसरों का लाभ उठाने के लिए यूएई और फ्रांस के बीच लंबे समय से चली आ रही साझेदारी पर आधारित है, जो ऊर्जा संक्रमण में तेजी लाएगी और दोनों देशों व दुनिया भर में जलवायु कार्रवाई और सतत आर्थिक विकास को बढ़ावा देगी। अपनी संयुक्त तकनीकी और ऊर्जा विशेषज्ञता का लाभ उठाते हुए हम अक्षय और जीरो-कार्बन ऊर्जा को बढ़ावा देने के अपने प्रयासों को तेज करेंगे ताकि अर्थव्यवस्थाओं और विशेष रूप से कठिन-से-कम किए जाने वाले क्षेत्रों को कार्बनमुक्त किया जा सके।”

ब्रूनो ले मायेर ने कहा, "यह लक्षित कार्यक्रम परिवहन के लिए स्वच्छ ऊर्जा विकास की प्रभावशाली परियोजनाओं के कार्यान्वयन में तेजी लाने के लिए दोनों देशों के सार्वजनिक व निजी क्षेत्रों के बीच तालमेल का लाभ उठाएगा। फ्रांस-यूएई रणनीतिक साझेदारी के इस नए उदाहरण और COP28 के प्रति महत्वाकांक्षा बढ़ाने के हमारे साझा उद्देश्य से मैं बहुत खुश हूं।”

अनुवाद - एस कुमार.

https://wam.ae/en/details/1395303123835