ब्रिटेन के राजदूत ने WAM को बताया कि ब्रिटेन यूएई का सहयोग करता है, COP28 में यूएई के साथ मजबूत भागीदारी और जुड़ाव की उम्मीद करता है

ब्रिटेन के राजदूत ने WAM को बताया कि ब्रिटेन यूएई का सहयोग करता है, COP28 में यूएई के साथ मजबूत भागीदारी और जुड़ाव की उम्मीद करता है

अबू धाबी, 6 अगस्त, 2023 (डब्ल्यूएएम) -- यूएई में ग्रेट ब्रिटेन और उत्तरी आयरलैंड के यूनाइटेड किंगडम के राजदूत एडवर्ड होबार्ट ने संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन क्लाइमेट चेंज (COP28) के राज्यों के दलों के सम्मेलन की यूएई की मेजबानी के लिए अपने देश के सहयोग और संयुक्त राष्ट्र जलवायु सम्मेलन में ब्रिटेन की सक्रिय भागीदारी की पुष्टि की।

अमीरात समाचार एजेंसी (WAM) के साथ एक इंटरव्यू में एडवर्ड होबार्ट ने कहा, ''COP28 में हम सोचते हैं कि यूएई मेजबानी करने के लिए एक महान देश है, यह परमाणु ऊर्जा सहित नवीकरणीय और स्वच्छ ऊर्जा में इसका एक लंबा इतिहास है। इसलिए इसने एक उदाहरण स्थापित किया है और हमें और अधिक देशों को अपने साथ लाने की जरूरत है। लेकिन यह एक बड़ी चुनौती है।’’

उन्होंने COP28 के महत्व के बारे में ब्रिटेन के दृष्टिकोण और दोनों देशों के बीच संयुक्त सहयोग के मुख्य क्षेत्रों में से एक के रूप में वैश्विक जलवायु कार्रवाई में लंबी उछाल लगाने में इसकी भूमिका के बारे में बात की।

COP28 में ब्रिटेन की भागीदारी पर एडवर्ड होबार्ट ने कहा, ''COP28 में बहुत मजबूत ब्रिटिश भागीदारी होगी। हमारे कई नेताओं के साथ ब्रिटिश कंपनियां, ब्रिटिश निवेशक, ब्रिटिश वैज्ञानिक और विशेषज्ञ COP28 में योगदान देंगे।''

उन्होंने संकेत दिया कि ब्रिटेन ने दो साल पहले COP26 में COP की अध्यक्षता की थी और मुझे लगता है कि हर साल यह और अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है। जलवायु आपातकाल से निपटना होगा। इसलिए हमें वास्तव में उत्सर्जन को कम करने, शमन बढ़ाने, देशों को अनुकूलन में मदद करने और यह सब करने के लिए वित्तपोषण प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित करना होगा और यह COP28 के लिए एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

‘’यह दुनिया के लिए यूएई के लिए उस प्रक्रिया का नेतृत्व करने के लिए एक बड़ी चुनौती है और हम इसका सहयोग करने के लिए जो कुछ भी कर सकते हैं वह करना चाहते हैं। इसका सहयोग करने के लिए हमें नवीकरणीय और स्वच्छ ऊर्जा को बढ़ाने की आवश्यकता है और एक लक्ष्य के रूप में हम 2030 तक नवीकरणीय ऊर्जा को तीन गुना करने का साहसिक लक्ष्य चाहते हैं।’’

यूएई-ब्रिटेन ऊर्जा सहयोग पर ब्रिटेन के राजदूत ने कहा, ''यूएई एक दशक से अधिक समय से ब्रिटेन में नवीकरणीय ऊर्जा में निवेश कर रहा है और वे प्रमुख विंड फार्मों, अपतटीय विंड फार्मों, लंदन एरे, स्कॉटलैंड में विंड फार्मों और स्कॉटलैंड के तट पर तैरते उच्च विंड फार्मों में निवेशक हैं। यूएई ने ब्रिटेन में बैटरी स्टोरेज में भी निवेश किया है और ब्रिटेन व यूएई दोनों ने एक-दूसरे के देशों में हाइड्रोजन परियोजनाओं में निवेश किया है। इसलिए हमारे पास एक साथ और साथ ही तीसरे देशों में बहुत अधिक सहयोग है जहां हमारे व्यवसाय और सरकारें अपने स्वयं के ऊर्जा परिवर्तन के माध्यम से अन्य देशों की मदद करने के लिए मिलकर काम करती हैं।’’

'यूएई लंबे समय से नवीकरणीय ऊर्जा में एक प्रमुख खिलाड़ी रहा है। उनके अपतटीय विंड और बैटरी प्रधान कार्यालय वास्तव में लंदन में हैं। इसलिए वे अपना वैश्विक परिचालन लंदन से बाहर विंड और बैटरी पर चलाते हैं। हमारे पास प्रौद्योगिकी और निवेश हैं जो हम ब्रिटेन और यूएई के बीच साझा करते हैं।’’

COP28 में यूएई-ब्रिटेन की पहल के बारे में ब्रिटेन के राजनयिक ने बताया, ''निश्चित रूप से मुझे यकीन है कि यूएई के साथ प्रकृति जैसी चीजों पर ब्रिटेन की पहल के साथ द्विपक्षीय पहल होगी। हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हम प्रकृति आधारित समाधानों के लिए बड़ी धनराशि लाएं क्योंकि इसका दूसरा पहलू यह है कि वायुमंडल में कार्बन डाइऑक्साइड के शमन का एक हिस्सा यह सुनिश्चित करना है कि हमारे पास जमीन पर सही वनस्पति है। इसलिए मैंग्रोव एक बहुत ही महत्वपूर्ण परियोजना है जिस पर हम अमीराती संगठनों के साथ संयुक्त रूप से काम करते हैं, दुनिया भर में जंगलों का विकास व रखरखाव करते हैं और लोगों के स्वदेशी समूहों का सहयोग करते हैं जो समझते हैं कि यह कैसे करना है।’’

अनुवाद - पी मिश्र.

https://wam.ae/en/details/1395303184303